अवैध हथियारों के खिलाफ बिहार से बंगाल तक छापेमारी: झारखंड ATS ने गया में की कार्रवाई, बिहार STF ने रूपनारायनपुर में पकड़ी अवैध आर्म्स फैक्ट्री

0
28


रांची/ मिहिजाम8 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

बिहार से पकड़ा गया हथियार।

बिहार, झारखंड से लेकर पश्चिम बंगाल तक फैले अवैध हथियारों के कारोबार के खिलाफ सुरक्षा एजेंसियां सक्रिय हो गई हैं। बिहार, झारखंड और बंगाल पुलिस की अलग-अलग एजेंसियों ने बिहार से बंगाल तक छापेमारी कर अवैध हथियारों के निर्माण व सप्लाई के नेटवर्क का खुलासा किया है। एक तरफ जहां झारखंड के आतंकवाद निरोधी दस्ता (ATS) ने बिहार के गया में छापेमारी कर 4 लोगों को गिरफ्तार किया है। वहीं बिहार STF ने झारखंड और बंगाल पुलिस के साथ मिलकर रूपनारायनपुर अवैध आर्म्स फैक्ट्री पकड़ी है। इसमें 3 लोगों को गिरफ़्तार किया गया है। इसमें बिहार के मुंगेर का एक पारा शिक्षक भी शामिल है।

जानकारी देते झारखंड एटीएस के अधिकारी।

जानकारी देते झारखंड एटीएस के अधिकारी।

झारखंड ATS ने बरामद किए 35 पिस्टल
झारखंड के आतंकवाद निरोधी दस्ता की ओर से विभिन्न आपराधिक गिरोहों को हथियार आपूर्ति करने वाले नेटवर्क के खिलाफ बिहार के गया जिले में छापेमारी की गई। इसमें टीम को महत्वपूर्ण सफलता मिली है। टीम टंडवा थाने के एक मामले का अनुसंधान कर रही थी। इसी दौरान सूचना मिली कि गया का रहने वाला हरेंद्र यादव गैंगस्टर अमन साहू गिरोह एवं अन्य आपराधिक गिरोहों को हथियार की आपूर्ति करने वाला है। टीम ने इस सूचना के आधार पर छापेमारी की। इसमें रंजन कुमार, चंदन कुमार,मो. दानिश इकबाल व मोहम्मद तोहिद उर्फ़ रफत को शेरघाटी से गिरफ्तार किया गया।

यह सभी अपराधी हरेंद्र यादव के लिए काम करते हैं।हरेंद्र के पास यह सामान उत्तर प्रदेश के मुबारक अंसारी गिरोह की ओर से भेजा जाता है। यह इसे बिहार व झारखंड में अलग-अलग आपराधिक गिरोहों को सप्लाई करता है। इन अपराधियों के पास से 35 देशी पिस्टल और 4 मोबाइल बरामद किया गया है। पकड़े गए अपराधियों ने झारखंड से लेकर बिहार तक में अलग-अलग वाहनों की लूट में अपनी संलिप्तता स्वीकार की है।

बंगाल में अवैध फैैक्ट्री से बरामद हथियार

बंगाल में अवैध फैैक्ट्री से बरामद हथियार

बिहार STF ने पकड़ी फैक्ट्री
पश्चिम बंगाल पुलिस, झारखंड पुलिस और बिहार पुलिस के STF की संयुक्त टीम ने गुरुवार को छापेमारी कर पश्चिम बंगाल के पश्चिम बर्धमान जिले के सालानपुर थाना क्षेत्र के रूपनारायनपुर में चितलडांगा से अवैध हथियार की फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया है। यहां से भारी मात्रा में अवैध हथियार और कारतूस बरामद किए हैं। तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। यह सभी बिहार के रहने वाले हैं। इनके तार मुंगेर से जुड़े हुए हैं। इनकी पहचान राजकुमार,प्रवीण कुमार, मुहम्मद इकबाल के रूप में हुई है। सभी बिहार के हजरतगंज, कासिम बाजार मुंगेर के निवासी हैं। इसमें राजकुमार पेशे से पारा शिक्षक है।

बंगाल में छापेमारी करती पुलिस की टीम।

बंगाल में छापेमारी करती पुलिस की टीम।

आरोपियों को पनाह देने के मामले में पुलिस नन्दू चौधरी की तलाश कर रही है। बताया जा रहा है कि राजकुमार चौधरी पेशे से पारा शिक्षक है। यह सभी चितलडांगा गांव में एक घर लेकर हथियार बनाने का काम कर रहे थे। सुरक्षा बलों ने यहां से मशीन, हथियार बनाने के पुर्जे, 10 निर्मित पिस्टल, 40 अर्धनिर्मित पिस्टल और काफी संख्या में अर्धनिर्मित कारतूस बरामद किया है।

खबरें और भी हैं…



Source link