करियर के आखिरी ग्रैंडस्लैम में इस खिलाड़ी को मिली हार, म्यूस से फैंस हुए खराब

0
23
करियर के आखिरी ग्रैंडस्लैम में इस खिलाड़ी को मिली हार, म्यूस से फैंस हुए खराब


सानिया मिर्जा और अन्ना डेनिलिना: सानिया मिर्जा और कजाखस्तान की जोड़ीदार अन्ना डानिलिना ऑस्ट्रेलियाई ओपन टेनिस टूर्नामेंट के दूसरे दौर में हारकर बाहर हो गईं जिससे भारतीय खिलाड़ी का ग्रैंडस्लैम प्रतियोगिताओं में महिला प्रयासों में करियर का भी अंत हो गया।

सानिया मिर्जा को मिली हार

सानिया मिर्जा और डानिलिना की आठवीं दावेदारी बेल्जियम की एलिसन वैन उइतवैंक और यूक्रेन की एनहेलिना कलिनिना से 2 घंटे से अधिक समय तक चले मैच में 4-6, 6-4, 2-6 से हार का सामना करना पड़ा।

दूसरे सेट में वापसी

सानिया और डेनिलिना की जोड़ी पहले सेट में चढ़ने के बाद दूसरे सेट में भी एक बार 0-3 से पीछे चल रही थी, लेकिन इसके बाद उन्होंने लगातार तीन गेम जीतकर शानदार वापसी की। उन्होंने कोई निर्णायक गेम तक मैच नहीं निकाला, लेकिन इसमें उनकी पहुंच से बाहर हो गए।

सानिया की मिश्रित मिश्रित चुनौती बनी हुई है, जिसमें उन्होंने हमवतन रोहन बोपन्ना के साथ जोड़ी बनाई है। इस भारतीय साझेदारी ने शनिवार को शुरुआती दौर में जैमी फोर्लिस और ल्यूक सैविल को 7-5, 6-3 से हराया था।

करियर का आखिरी ग्रैंडस्लैम है

अब तक 6 ग्रैंडस्लैम टाइटल (महिला मिश्रित और मिश्रित ऑडियंस में तीन-तीन) विजेता 36 साल की सानिया मिर्जा ने सबसे पहले घोषणा की थी कि ऑस्ट्रेलियन ओपन उनका आखिरी ग्रैंडस्लैम होगा और वह 19 फरवरी से शुरू होने वाली WTA 1000 दुबई टेनिस चैंपियनशिप के बाद संन्यास ले लेंगे।

इस भारतीय जोड़ी को भी हार मिली

एन श्रीराम बालाजी और लाइफ नेदुनचेझियान के भारतीय पुरुष समझौते को भी दूसरे दौर में जेरेमी चार्दी और फैब्रिस मार्टिन की फ्रांसीसी साझेदारी से शिकस्तितनी करार किया। वैकल्पिक टीम के रूप में टूर्नामेंट में प्रवेश करने वाले बालाजी और जीवन की जोड़ी को 4-6, 4-6 से हार का सामना करना पड़ा जिससे पुरुष पहुंच में भारतीय चुनौती भी समाप्त हो गई।

भारत की पहली पसंद ज़ीहिंदी.कॉम – अब किसी और की पहचान नहीं

.



Source link