कोरोना के खौफ के बीच सारण में गैंगरेप: महिला विकास मित्र की बेटी से पांच ने किया गैंगरेप, मां का नाम लेकर धमकी दी फिर आरा स्टेशन पर छोड़ दिया

0
39


  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bihar News; Teen Daughter Of Vikas Mitra Gangraped By 5 In Saran Left At Ara Railway Station

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

छपरा20 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • डोरीगंज के दियारा इलाके की घटना, यहां पुलिस गश्ती न होने से बेखौफ हैं मनचले
  • महादलित समुदाय की पीड़िता से इलाके के दबंगों ने किया दुष्कर्म, परिजन भयभीत

छपरा के दियारा इलाके के पुलिस की पहुंच में न होने से मनचले बेख़ौफ़ हो गए हैं। इन्हीं मनचलों ने कुतुबपुर दियारा में एक नाबालिग किशोरी को अगवा कर उसके साथ गैंगरेप किया है। इतना ही नहीं, गैंगरेप के बाद लड़की को ले जाकर आरा रेलवे स्टेशन के पास छोड़ दिया। आरा रेलवे स्टेशन पर बेसुध किशोरी को देख स्थानीय लोगों ने पुलिस को सूचना दी। आरा के नवादा पुलिस थाना ने लड़की को बरामद कर पहले उसका इलाज कराया फिर पूछताछ के बाद बयान दर्ज किया। इसके बाद छपरा पुलिस से संपर्क कर किशोरी को उसके परिजनों को सौंप दिया गया।

दो बाइक सवार पांच बदमाशों ने रात में किशोरी को उठाया

गैंगरेप पीड़िता महादलित है। उसकी मां विकास मित्र है। पीड़िता ने पुलिस को दिए अपने बयान में कहा है कि वह बीते 16 अप्रैल की रात नौ बजे के करीब अपनी मां के साथ शौच के लिए गई थी। इस दौरान रास्ते में दो बाइक पर सवार पांच युवक आए और हथियार दिखाकर हाथ-मुंह पर गमछा बांध दूर एकांत चंवर में ले गये। वहीं सभी ने बारी-बारी से गैंगरेप किया। इसके बाद धमकी देते हुए कहा कि तुम्हारी मां विकास मित्र बनती है, अगर किसी से बोलेगी तो तुम्हारी और तुम्हारे पिता की हत्या कर देंगे। इसके बाद किशोरी को बाइक से आरा स्टेशन के पास छोड़कर फरार हो गये। पीड़िता के अनुसार पांचों दुष्कर्मी डोरीगंज थाना क्षेत्र के चकियां गाव निवासी नरेश राय के पुत्र पंकज राय, रामलीला राय के पुत्र रंजीत राय, गुप्त राय के पुत्र टुन्नू राय, अजय राय, सत्येन्द्र राय के पुत्र राकेश राय थे।

परिजनों को है डर, दुष्कर्मी दबंग और रसूखदार, फिर कुछ कर न दें

महादलित समुदाय के विकास मित्र की पुत्री से गैंगरेप के इस मामले की जानकारी सारण DIG व SP को भी है। DIG के निर्देश पर ही एक्टिव हुई पुलिस ने पीड़िता की बरामदगी के तुरंत बाद मेडिकल जांच व छपरा कोर्ट में धारा 164 के तहत बयान दर्ज कराया है। पुलिस ने उसे कड़ी सुरक्षा के बीच कुतुबपुर गांव पहुंचा दिया है। लेकिन पीड़िता एवं उसके परिजन असुरक्षित महसूस कर रहे है। परिजनों का कहना है कि रेपिस्ट काफी रसूखदार और सामंती किस्म के हैं। इससे डर बना हुआ है कि कहीं कोई घटना को अंजाम न दे दें। इसके बाद वरीय पदाधिकारियों के निर्देश पर पीड़िता की सुरक्षा के लिए अतिरिक्त पुलिस बल तैनात करने की कार्रवाई की जा रही है।

दियारा में कभी-कभार गश्ती में जाती है पुलिस, इसलिए अपराधियों के हौसले बुलंद

डोरीगंज थाना क्षेत्र का कुतुबपुर गांव दियारा इलाके में है। यहां जाने के लिए चिरांद-आरा पुल या गंगा नदी पार करके ही जाना पड़ता है। इस सूरत में पुलिस कभी-कभार ही कागजी कोरम पुरा करने के लिए गश्ती में जाती है। ग्रामीणों का आरोप है कि इससे दियारा इलाके के अपराधी बेलगाम रहते हैं। साथ ही गांव के मनचले युवक बेफिक्र होकर छोटी-छोटी घटनाओं को अंजाम देते रहते हैं, जिसकी खबर पुलिस तक नहीं पहुंचती है।

विकास मित्र संघ ने कहा – आरोपियों पर कार्रवाई नहीं, तो होगा उग्र आंदोलन

विकास मित्र संघ के जिलाध्यक्ष कृष्णा राम ने सरकार व जिला प्रशासन से जल्द से जल्द आरोपियों को गिरफ्तार कर स्पीडी ट्रायल कर फांसी का सजा दिलवाने की मांग की है। कहा कि पुलिस अगर यथाशीघ्र सभी आरोपियों को गिरफ्तार नहीं करती है तो उग्र आंदोलन किया जाएगा, जिसकी पूर्ण जवाबदेही जिला प्रशासन की होगी।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here