कोरोना से 14 दिन में 75 मौत: अप्रैल लिख रहा मौत की कहानी, ठंडी नहीं पड़ रही चिता की आग; एक के बाद दूसरी लाश

0
36


  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Patna Coronavirus, Bihar Crematoriums Update: 75 Covid 19 Patients Deaths In 14 Days Covid Second Wave

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पटना19 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

कोरोना संक्रमण से पिछले 14 दिन में मौत का यह आंकड़ा काफी तेजी से बढ़ा है।

  • हर दिन पांच मौत का है औसत, अप्रैल में मौत की डरावनी रफ्तार
  • 2021 में अप्रैल दे रहा है सबसे अधिक घाव, बुधवार को 21 मौत

एक लाश की चिता अभी ठंडी भी नहीं पड़ती कि दूसरी की तैयारी शुरू हो जाती है। कोरोना मौत का ऐसा तांडव कर रहा है कि हर दिन किसी न किसी की सांस थम रही है। इस मामले में अप्रैल काफी घाव दे रहा है। बुधवार का दिन इस साल का सबसे बड़ा जख्म देने वाला दिन था इस दिन प्रदेश में 21 लोगों की जान चली गई। शवदाह गृहों में लाश की भीड़ लग गई थी। प्रशासन को शव की भीड़ को लेकर बड़ा निर्णय लेना पड़ा, PMCH से आनी वाली डेडबॉडी को बांस घाट के बजाए गुलबी घाट भेजा जाने लगा। गुलबी घाट विद्यत शवदाह के चिमनी से धुआं देर रात तक निकलता रहा।

4 माह में अप्रैल ने सबसे अधिक रुलाया

वर्ष 2021 के 4 माह में अप्रैल सबसे अधिक रुला रहा है। चार माह में 75 लोगों की मौत हो गई है। हर दिन मौत का आंकड़ा बढ़ता ही जा रही है। बुधवार को सबसे अधिक 21 लोगों की मौत हुई है। आंकड़ों की बात करें तो हर दिन औसतन 5 लोगों की मौत कोरोना के कारण हुई है। हर दिन मौत का रुलाने वाला आंकड़ा सामने आ रहा है। 14 दिन में मौत का यह आंकड़ा काफी तेजी से बढ़ा है।

31 मार्च को 1576 मौत से आंकड़ा पहुंचा 1651

31 मार्च को प्रदेश में मौत का आंकड़ा 1576 था जो अब 14 मार्च को बढ़कर 1651 हो गया है। मौत का आंकड़ा हर दिन बढ़ता ही जा रहा है। कोई ऐसा दिन नहीं है जिस दिन 5 से कम मौत होती हो। पिछले 7 दिनों से हर दिन मौत का आंकड़ा 7 से लेकर 10 के बीच में रहा है जिसमें बुधवार को रिकार्ड ही टूट गया। एक दिन में 21 मौत से कोरोना ने यह बता दिया है कि वह अब मौत का तांडव कर रहा है।

कोरोना के खतरे से हो जाएं सावधान

कोरोना का खतरा हर दिन बढ़ रहा है। बुधवार को 4786 नए मामले आए हैं। पटना में सबसे अधिक खतरा है। एक दिन में 1483 नए मामले आए हैं। प्रदेश के एक दर्जन जिलों में खतरा बढ़ गया है। यहां तेजी से संक्रमण की रफ्तार बढ़ रही है। कोरोना की दूसरी लहर में मौत और संक्रमण के आंकड़े हर दिन रिकॉर्ड तोड़ रहा है। बुधवार को 24 घंटे में 21 कोरोना संक्रमितों की मौत के साथ संक्रमण के आंकड़े भी मौत को लेकर डरा रहे हैं। जांच बढ़ने के साथ ही संक्रमण का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। बुधवार को 24 घंटे में 100134 लोगों की जांच हुई 4786 नए संक्रमित पाए गए हैं।

अप्रैल में बढ़ गई एक्टिव मरीजों की संख्या

अप्रैल माह में एक्टिव मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ी है। यह संख्या इस माह में 23 हजार के पार हो गई है। बुधवार को 24 घंटे में 4183 नए मामले जुड़ने के बाद यह संख्या 23724 हो गई है। प्रदेश में अब तक कुल 295171 लोग अब तक पॉजिटिव हो चुके हैं जिसमें 26795 लोगों ने कोरोना को मात दी है। इसमें 1651 लोगों की जान चली गई है। संक्रमण की यह रफ्तार ऐसे ही बढ़ती रही तो आने वाले समय में काफी समस्या होगी। हॉस्पिटल में बेड की कमी के साथ कई तरह की मुश्किल लोगों के सामने आएगी।

ऐसे बढ़ रहा मौत का खतरा

मंगलवार तक प्रदेश में अब तक कुल करने वालों की संख्या 1630 थी, जाे 24 घंटे में ही बढ़कर 1651 पहुंच गई। एक दिन में बिहार में 21 लोगाें की जान चली गई है। मौत का यह आंकड़ा सरकार की भी नींद उड़ाने वाला है। वर्ष 2021 में ऐसा किसी से सोचा भी नहीं था कि कोरोना से मौत की रफ्तार इस कदर आगे बढ़ जाएगी। स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर प्रदेश में सख्ती बढ़ाने का निर्देश दिया है। कोरोना की गाइडलाइन का पालन करने के साथ सुरक्षा को लेकर हर नियम के लिए सख्ती दिखाने को कहा गया है। सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क के साथ भीड़ भाड़ वाले इलाकों में कार्रवाई का आदेश दिया गया है। ऐसे मार्केट पर नजर रखने को कहा गया है जहां हमेशा भीड़ लगती हो।

प्रदेश में कोरोना का बढ़ता संक्रमण

बिहार में कोरोना की रफ्तार थमने का नाम नहीं ले रही है। बुधवार को 24 घंटे की जांच में जो आंकड़े सामने आए हैं वह काफी डरावने हैं। कुल 4786 मामलों में पटना का आंकड़ा 1483 हो गया है। भागलपुर और गया में 334-334 नए मामले आए हैं। मुजफ्फरपुर में 242 नए मामले आए है। औरंगाबाद में 122, अररिया में 33, अरवल में 48, बांका में 32, बेगूसराय में 105, भोजपुर में 106, बक्सर में 97, दरभंगा 24, पूर्वी चंपारण में 92, मुई में 21, जहानाबाद में 128, कैमूर में 20, कटिहार में 107, खगड़िया में 26, किसनगंज में 32, लखीसराय में 44 और मधेपुरा और मधुबनी में 47-47 नए मामले आए हैं। मुंगेर में 97, मुजफ्फरपुर में 242, नालंदा 29, नवादा 44, पूर्णिया में 98, रोहतास 69, सहरसा में 103, समस्तीपुर में 112, सारण में 117, शेखपुरा में 40, सीतामढ़ी में 60, सीवान में 88, सुपौल में 47, वैशाली में 57 और पश्चिमी चंपारण में 97 नए मामले आए हैं।

बाहर से आने वाले बढ़ा रहे खतरा

बिहार के अलग-अलग जिलों में बाहर से आए 22 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसमें दिल्ली, उत्तर प्रदेश, झारखंड के साथ अन्य कई शहरों से आए लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसमें एक नेपाल से भी आया युवक कोरोना पॉजिटिव आई है। सुरक्षा को लेकर पूरी तरह से अलर्ट है। कोरोना के संक्रमण को लेकर पटना और बिहार के अन्य जिलों में आने वालों की हर हाल में जांच कराने का निर्देश दिया गया है।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here