गर्दनीबाग में पेयजल का दरिया है, डूब कर जाना है: हड़ताली गेट बंद होने के कारण जिस रास्ते पर दबाव, वहां का हाल देखिए सरकार

0
37


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पटनाएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

गर्दनीूबाग रोड नंबर-1 का हाल।

  • सप्लाई वाटर का पाइप फटने से जलमग्न है गर्दनीबाग रोड नंबर 1
  • विधानसभा सत्र के दौरान हड़ताली गेट बंद होने से रूट हो जाता है डायवर्ट

गर्दनीबाग में इन दिनों बिना बरसात के दरिया बह रहा है। यह दरिया किसी नाले के पानी का नहीं, बल्कि कीमती पेयजल का है। वह जल, जिसकी सप्लाई 1 घंटे के लिए बंद हो जाए तो लोग बेचैन हो जाते हैं। यह कीमती पानी सड़क पर बेकार बह रहा है। अंडरग्राउंड सप्लाई पाइप के फटने के कारण यहां-वहां फ्लो कर रहा है। राहगीर किसी तरह अपने को बचाते हुए सड़क पार कर रहे हैं। सड़क भी टूटी-फूटी है, पानी भर जाने के कारण पता नहीं चल रहा है कि कहां पर गड्ढा है। दरअसल, विधानसभा सत्र के कारण हड़ताली के दोनों गेट को बंद कर दिए जाते हैं, जिसके कारण लोगों को यारपुर, गर्दनीबाग रोड नंबर 1 से होकर आना पड़ता है। हड़ताली गेट बंद होने के कारण इस सड़क पर बहुत दबाव है। वहीं, पाइप फटने से लोगों की परेशानी बढ़ गई है।

इसी जगह से निकल रहा है पानी।

इसी जगह से निकल रहा है पानी।

पानी पार कर स्कूल आ रहे बच्चे
इसी रोड में राजकीय आदर्श बालक मध्य विद्यालय भी है। कोरोनाकाल के बाद स्कूलों के खुल चुके हैं और छात्र रोजाना स्कूल पहुंच रहे हैं। ऐसे में पानी में ही चलकर स्कूल आना पड़ रहा है। यारपुर, रोड नंबर-1 में सड़क की भी स्थिति जर्जर है। एक तो सड़क बेहाल, ऊपर से जलजमाव का ये हाल। स्कूली बच्चों को इस समस्या से सबसे अधिक परेशानी हो रही है।
कहीं गड्ढे में ना पलट जाए गाड़ी…
ये सड़क पूरी तरह से जर्जर है। कहीं रोड टूटा है तो कहीं सड़क का लेवल ऊंचा-नीचा है। इसलिए इस रोड से जाते समय काफी सावधानी बरतनी पड़ती है। अब पानी के बहने से बाइकसवार राहगीरों को पानी में पैर नीचे करके गाड़ी पार करानी पड़ रही है। इस रोड से गाड़ी ले जाते समय लोगों को डर लगा रहता है कि कहीं गड्ढे में गाड़ी ना पलट जाए।

खबरें और भी हैं…



Source link