गोपालगंज में 4 लोगों के खिलाफ केस: वाहन से मिले थे 3 करोड़ पचास लाख, उत्पाद विभाग की टीम ने की थी छापेमारी

0
51


गोपालगंज43 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

नकद के साथ सभी आरोपी।

कुचायकोट थाना क्षेत्र के बलथरी चेक पोस्ट पर रविवार की दोपहर उत्पाद विभाग द्वारा एक कार से जब्त किए गए तीन करोड़ पचास लाख रुपया मामले में उत्पाद निरीक्षक प्रकाश चंद्र के बयान पर कुचायकोट थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है ।दर्ज प्राथमिकी में कार से गिरफ्तार दो युवकों के अलावा दो अन्य लोगों को भी आरोपी बनाया गया है। पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज करने के बाद मामले की जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

दरअसल कुचायकोट थाना क्षेत्र के बलथरी चेक पोस्ट पर रविवार की दोपहर उत्पाद विभाग की एक टीम ने वाहन जांच के क्रम में लग्जरी कार से भारी मात्रा में नकदी जब्त की थी ।इस मामले में रविवार की देर रात तक आयकर विभाग के पदाधिकारियों, पुलिस पदाधिकारियों तथा उत्पाद अधीक्षक की देखरेख में नोटों की गिनती कराई गई ।गिनती में कुल जप्त रुपए 3 करोड़ पचास लाख रुपये पाए गए । कार से बरामद रुपयों के बारे में कार सवार कोई संतोषजनक जवाब नहीं दे पाए।

इसके बाद उत्पाद टीम ने रुपयों को जब्त करते हुए कार सवारों को गिरफ्तार कर लिया। इस मामले में चेक पोस्ट के प्रभारी निरीक्षक प्रकाश चंद्रा के बयान पर सोमवार को कुचायकोट थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई गई । दर्ज प्राथमिकी में कार सवार राजस्थान के बीकानेर जिले के श्री डूंगरगढ़ निवासी लख्खू राम के पुत्र राकेश कुमार और बीकानेर जिले के बीकानेर थाना क्षेत्र के नौरंगदेसर गांव निवासी हुकमा राम के पुत्र मुकेश कुकुजा को आरोपी बनाया गया है।

इसके अलावा राजस्थान के ही मोमोसर बास श्री डूंगरपुर गांव निवासी लूनकरण के पुत्र सेठ युगल किशोर शर्मा के अलावा गाड़ी के मालिक बीघा बास श्री डूंगरगढ़ निवासी गणेश प्रसाद के पुत्र मनोज कुमार शर्मा को आरोपित किया गया है। कार सवार आरोपियों द्वारा कार से जब्त की गई रुपए सेठ युगल किशोर शर्मा की बताई जा रही है। गिरफ्तार आरोपियों के अनुसार युगल किशोर शर्मा सुपारी के कारोबारी है ।प्राथमिकी दर्ज करने के बाद पुलिस जांच में जुट गई है।

खबरें और भी हैं…



Source link