छठ घाट पर डूबने से दो युवकों की मौत: सहरसा के महिषी और बलवाहाट इलाके में हादसा, उदीयमान सूर्य को अर्घ्य देने गए थे दोनों

0
9


सहरसा29 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

घटना के बाद रोते-बिलखते परिजन।

सहरसा में दो अलग-अलग जगहों पर गुरुवार सुबह दो युवकों की मौत हो गई। दोनों उदीयमान सूर्य को अर्घ्य देने पहुंचे थे। इसी दौरान दोनों गहरे पानी में डूब गए। जबतक उन्हें कोई बचा पाता तब दोनों की मौत हो गई। घटना के बाद दोनों घाटों पर हड़कंप मच गया। इधर, सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और शवों को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया।

पहली घटना सिमरी बख़्तियारपुर बलवाहाट के कांठो पंचायत स्थित बाबा मटेश्वरधाम मंदिर परिसर स्थित तालाब में डूबने से बादल कुमार (14) की मौत हो गई। मृतक कांठो पंचायत के शंकरपुर निवासी शशि पासवान के पुत्र है। मृतक के पिता ने बताया कि वो सपरिवार छठ पर्व मनाने के लिए बाबा मटेश्वरधाम मंदिर परिसर स्थित तालाब पर गए थे। बादल नहा रहा था। पैर फिसलने की वजह से गहरी खाई में चला गया और डूब गया। घटना के बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। वहीं स्थानीय लोग प्रशासन से पीड़ित परिवार को मुआवजा दिलाने की मांग कर रहे हैं।

जबकि दूसरी घटना महिषी उत्तरी पंचायत के सतरवार गांव में शशिरंजन मिश्र (20) की अहले सुबह तालाब में डूबने से मौत हो गई। हादसा उस वक़्त हुआ जब वह छठ घाट पर अर्घ्य देने गया हुआ था। अर्घ्य देने से पहले वह स्नान करने के लिए ब्रह्म बाबा पोखर में डुबकी लगाने गया। पानी में पैर फिसल जाने की वजह से वह गहरे पानी में चला गया और डूब गया। छठ घाट पर मौजूद लोगों ने उसे तालाब से बाहर निकाला और सदर अस्पताल इलाज के लिए लेकर पहुंचे। जहाँ डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।

खबरें और भी हैं…



Source link