जमुई में नक्सलियों का साथी डॉक्टर अरेस्ट: जिले में खोल रखे थे 3 क्लिनिक, सभी में नक्सलियों के ही इलाज करने का आरोप

0
17


जमुई5 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

गिरफ्तार चिकित्सक एसके पांडे।

जमुई पुलिस ने नक्सलियों के लिए फंडिंग करने वाले एक चिकित्सक को चकाई के उसके क्लिनिक से गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार चिकित्सक की पहचान एसके पांडे के रूप में हुई है।

पुलिस अधीक्षक प्रमोद कुमार मंडल ने बताया कि सूचना मिली थी कि बिहार हेड नक्सली परवेज के लिए काम करने वाला झाझा का एक चिकित्सक विस्फोटक जमा करने एवं उसके फंडिंग के लिए काम कर रहा है।

सूचना मिलते ही एक टीम लगातार इसकी निगरानी कर रही थी। बीते 8 दिसंबर को चिकित्सक ने झाझा के एक सीएसपी से 20 हजार रुपए निकाल झारखंड के हजारीबाग स्थित परवेज के घर भेजा। उसके बाद से ही पुलिस लगातार एक्टिव होकर कार्य करने लगी।

तीन दिन पहले एसके पांडेय अपना मोबाइल बंद कर गुपचुप तरीके से रहने लगा। चकाई थानाधक्ष को सूचना मिली चिकित्सक गुपचुप तरीके से अपने क्लीनिक आया है, तभी पुलिस ने धावा बोल कर उसे गिरफ्तार कर लिया। उसके पास एक छोटा मोबाइल भी था जिसकी छानबीन में बिहार हेड नक्सली परवेज का दो नंबर सेव था। उसने मैसेज कर कहा था कि पैसे को कहां पहुंचाना है।

एसपी ने बताया कि गिरफ्तार नक्सली ने झाझा, सोनो एवं चकाई में भी अपना क्लीनिक खोल रखा है। सभी क्लीनिक में आम मरीजों की कम और नक्सली संगठन से जुड़े लोगों का इलाज अधिक करते थे। खासकर चकाई में जो क्लीनिक खोला गया है, उसमें सारा पैसा नक्सली संगठन का लगा है। फिलहाल गिरफ्तार नक्सली से पूछताछ जारी है।

खबरें और भी हैं…



Source link