जिसको छोटे भाई की तरह माना, वहीं निकला लुटेरा: दवा कारोबारी कैश लूटकांड; 4 साल पुराने सबसे विश्वासी स्टाफ ने ही रची थी साजिश, पुलिस ने 2 को किया गिरफ्तार

0
24


  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Drug Dealer Cash Robbery; 4 Year Old Most Trusted Staff Had Hatched The Conspiracy, Police Arrested 2

पटनाएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

गोविंद मित्रा रोड में श्याम फार्मा के मालिक अशोक राजगड़िया व उनके परिवार के होश उस वक्त उड़ गए, जब पटना पुलिस ने उनके ऊपर हुए जानलेवा हमला और दुकान के काउंटर से कैश लूटने के मामले का खुलासा किया। क्योंकि इस कांड की साजिश उस व्यक्ति ने रची थी, जिस पर दवा का कारोबार करने वाले अशोक राजगड़िया सबसे अधिक विश्वास करते थे। जिसे वो स्टाफ नहीं बल्कि छोटे भाई की तरह मानते थे। जिसके उपर उन्हें इतना भरोसा था कि पूरे दिन कलेक्ट में किए गए रुपयों के संभालने की जिम्मेवारी उसके उपर ही छोड़ देते थे। विश्वासघात करने वाले इस शख्स का नाम अंकित शर्मा उर्फ शानू है। जो सालिमपुर अहरा के ही गली नंबर 1 का रहने वाला है। अंकित पिछले 4 साल से श्याम फार्मा में काम कर रहा है।

2 अपराधी अभी भी फरार

पुलिस ने इसे गिरफ्तार कर लिया है। इसके एक साथी व जहानाबाद के मखदुमपुर के रहने वाले दानिश उर्फ अलकमा आलम को भी पकड़ा है। इस मामले में अभी दो अपराधी फरार हैं। जिन तक पुलिस पहुंच नहीं पाई है। जबकि एक अपराधी लूट के तुरंत बाद ही पकड़ा गया था। पब्लिक की पिटाई में वो गंभीर रूप से घायल हो गया था। जिसका इलाज अभी भी चल रहा है।

लैपटॉप बैग और 1.70 लाख रुपए लूटे थे

दरअसल, ये पूरा मामला 7 जून का है। गोविंद मित्रा रोड में दुकान खुलने के कुछ देर बाद ही तीन अपराधी श्याम फार्मा पहुंच गए थे। इसमें 2 अपराधी बाइक लेकर बाहर खड़े थे। जबकि तीसरा अपराधी दुकान में कस्टमर्स के बीच मौजूद था। उसने अशोक राजगड़िया के ऊपर किसी चीज से वार किया था। इस जानलेवा हमले में वो घायल हो गए थे। इसके बाद काउंटर के पास रखे लैपटॉप बैग और उसके अंदर रखे 1.70 लाख रुपए कैश को लेकर अपराधी वहां से भाग निकला था। मगर, शोर मचते ही पब्लिक ने कैश लेकर भाग रहे अपराधी को धर दबोचा था। जमकर उसकी पिटाई कर दी थी। पीरबहोर के थानेदार रिजवान अहमद के अनुसार दुकान के स्टाफ अंकित शर्मा को हर बात की जानकारी रहती थी। कैश का मूवमेंट कब होता है, उसे अच्छे से पता था। इसी का उसने फायदा उठाया। अपने साथियों के साथ मिलकर पूरी प्लानिंग बनाई। फिर वारदात को अंजाम दिया। इसके अलावा पीरबहोर थाना की पुलिस ने मुसल्लहपुर इलाके से तीन अपराधियों को भी एक देशी कट्‌टा और तीन गोली के साथ पकड़ा है।

पटना में लुटेरे को लोगों ने जमकर पीटा:गोविंद मित्रा रोड में श्याम फार्मा के मालिक पर हमला कर 1.70 लाख अपराधियों ने लूटा, भागने के दौरान लोगों ने 1 को दबोचा

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here