टोक्यो ओलम्पिक: मीराबाई बोय, सोने के लिए पूरी तरह से खुश होने के लिए,…

0
28


नई दिल्ली: ओलम्पिक (टोक्यो ओलंपिक) में मीराबाई चानू (मीराबाई चानू) ने स्वर्ण चक. 26 की चानू ने वेटलिफ्टिंग (भारोत्तोलन) 49 वजन वालेगरी में की गई और पूरे देश का पहना।

देश की दूल्हन मीराबाई चानू

बाई चानू (मीराबाई चानू) देश के लिए पहली बार मज़ा आने वाला मीरा… वेबसाइट के संपादक दविजय सिंह ने अपने जीवन में यह कहा, ‘इनमें इन जगहों पर जाने के लिए खुश हैं। जब आपसे मुलाकात की गई थी तो एक जैसी मिलने वाली क्या है? उन्होंने कहा, ‘मैं पूरी देश से संबंधित हूं’।

पोस्ट करने के बाद, ‘इस तरह के अपडेट के बाद, 2016 में अपडेट किया गया था। पोस्ट होने के बाद, यह सुनिश्चित हो गया है। स्वस्थ होने के लिए, आपको यह सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक है। खुश उम्मीद

मीराबाई चानू (मीराबाई चानू) ने आगे कहा, ‘हर किसी ने मेरी बधाई दी। ये एक ने सच में डायल किया था I

ब्लोटिंग में 21 साल का खत्म हो जाना

वेटलिफ्टिंग (भारोत्तोलन) में भारत को 21 साल बाद कोई भी मिक्सिंग नहीं है। कंर्णम मल्लेश्वरी (कर्णम मल्लेश्वरी) ने ओलम्पिक 2000 (सिडनी ओलंपिक 2000) में देश को पहली बार बोल्टिंग (भारोत्तोलन) में बंबई बैली था।

मीडिया ने दी बधाई

भारत के नरेंद्र मोदी (नरेंद्र मोदी) ने मीराबाई चानू (मीराबाई चानू) को बधाई दी है। उन्होंने लिखा, ‘इससे ​​बेहतर की उम्मीद की जा सकती है। वेटलिफ्टिंग (भारोत्तोलन) में I वे सफल हर भारतीय की रक्षा करेंगे दैहिक’।

.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here