तस्करों के डर से फंदे से झूला सोशल एक्टिविस्ट: सुबह पोस्ट में लिखा- डिप्टी CM को दूंगा सबूत, अब खेला होगा; 3 घंटे बाद की आत्महत्या

0
27


बेतिया26 मिनट पहले

मृतक की फाइल फोटो।

बिहार में प्रशासन पर सवाल खड़ा करने वाला एक और मामला सामने आया है। दो दिन पहले मोतिहारी में RTI एक्टिविस्ट के हत्यारों को सजा नहीं मिलने से परेशान 14 साल के बेटे ने आत्महत्या कर ली थी। ऐसा ही मामला मोतिहारी से सटे बेतिया जिले से सामने आया है। रविवार की दोपहर एक सामाजिक कार्यकर्ता युवक ने सुसाइड कर लिया। जबकि मौत से 3 घंटे पहले युवक ने अपने सोशल मीडिया पर गांजा तस्करों के खिलाफ बड़ा खुलासा करने की बात कही थी।

अब होई खेला का पोस्ट।

मामला बेतिया जिले के गोपालपुर थाना क्षेत्र के दक्षिणी घोघा पंचायत के घोघा दुबेटोला गांव का है। घोंघा दुबेटोला निवासी विनय कुमार दुबे का पुत्र उज्जवल कुमार दुबे ने अपने घर में पंखे से फंदा लगा आत्महत्या कर ली। ग्रेजुएशन पार्ट-2 के स्टूडेंट उज्जवल ने मौत से चंद घंटे पहले युवक ने गांजा तस्करों के खिलाफ प्रशासन से कार्रवाई करने की मांग की। साथ ही अपने सोशल मीडिया पर पोस्ट लिखा था कि ‘अब होई खेला’। उज्जवल का 09 मई को जनेऊ कार्यक्रम की तिथि भी निर्धारित थी। अभी युवक की शादी भी नहीं हुई थी।

शुक्रवार को लिखा फेसबुक पोस्ट।

शुक्रवार को लिखा फेसबुक पोस्ट।

गांजा तस्करों के खिलाफ लिखा था पोस्ट
परिजनों ने बताया कि शुक्रवार को उज्जवल ने अपने फेसबुक पर एक गांव में बच्चों द्वारा गांजा का उपयोग करने को लेकर पोस्ट लिखा। इसके बाद आज रविवार की सुबह भी उसने गांजा की बिक्री और तस्करी को लेकर एक पोस्ट डाला था। उसमें वह जिला के DM व SP से निवेदन किया था कि गांव में गांजा की तस्करी जोरों से चल रहा है। इससे गांव के छोटे-छोटे बच्चे उसका सेवन कर अपना भविष्य बर्बाद कर रहे हैं। जल्द से जल्द उनकी गिरफ्तारी की जाए।

आज सुबह लिखा फेसबुक पोस्ट।

आज सुबह लिखा फेसबुक पोस्ट।

पोस्ट से गुस्साए तस्करों ने अंजाम भुगतने की दी थी धमकी
उज्जवल ने बिहार की उप मुख्यमंत्री रेणु देवी से मिलकर आवेदन और सबूत सौंपने की बात भी पोस्ट में लिखी थी। उज्जवल के इस पोस्ट से भड़के गांजा तस्करों ने रविवार की सुबह करीब 11 बजे उसके दरवाजे पर पहुंच उसके साथ गाली गलौज की और अंजाम भुगत लेने की धमकी भी दी। उज्जवल के पिता विनय कुमार दुबे ने बताया कि- प्रशासन से सहयोग न मिलने के कारण तस्करों के इस धमकी से ही उज्जवल ने तनाव में आकर 1 बजे आत्महत्या की है। वहीं इस संबंध में गोपालपुर थानाध्यक्ष राजरूप राय ने बताया कि मृतक के परिजनों से आवेदन मिला है, अनुसन्धान कर अग्रतर कारवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं…



Source link