थाना से 300 मीटर की दूरी पर गरजीं बंदूकें: पटना में अवैध कब्जा करने पहुंचे थे गुर्गे, जमीन मालिक ने रोका तो दहशत फैलाने के लिए कर दी ताबड़तोड़ फायरिंग

0
19


  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Bihar News; Criminals Arrived In Patna For Illegal Capture, If The Land Owner Stopped, Then He Started Firing Fast To Spread Panic

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पटना6 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

बदमाशों ने बैक टू बैक 5 राउंड फायरिंग कर दी।

पटना में थाना से महज 300 मीटर की दूरी पर माफिया के गुर्गों ने धांय-धांय की। दहशत फैलाने के लिए ताबड़तोड़ फायरिंग की। लॉकडाउन में माफिया के गुर्गे दूसरे की जमीन पर कब्जा करने पहुंचे थे। रविवार के दिन में हुई यह वारदात राजधानी के राजीव नगर थाना इलाके की है। फायरिंग की पूरी वारदात इलाके के एक घर में लगे CCTV के कैमरे में कैद हो गई है। दिनदहाड़े फायरिंग की इस घटना का आरोप जेल में बंद बड़े भू माफिया सत्यनारायण सिंह और उसके गुर्गों पर लगा है। दरअसल, राजीव नगर थाना के पीछे नेपाली नगर में कंचनपुरी मुहल्ला है। इसी इलाके में परमार कुमार और अखिलेश कुमार के नाम से एक कट्‌ठा जमीन का प्लॉट है। आरोप है कि जेल में बंद सत्यनारायण सिंह के गुर्गे उसी प्लॉट पर अवैध कब्जा करने के लिए पहुंचे थे। ये सभी 6-7 बाइक से आए थे और इनकी संख्या करीब 12 से 14 की थी। सभी ने गमछे और मास्क से अपने चेहरे को कवर कर रखा था। जमीन पर पहुंचते ही बदमाशों ने वहां पर मौजूद लोगों को भगाना शुरू कर दिया था। जैसे ही इस बात की जानकारी जमीन मालिक को हुई तो वो दोनों मौके पर पहुंचे। अवैध कब्जा करने का विरोध किया तो बदमाशों ने अपने पास से पिस्टल निकाला और बैक टू बैक 5 राउंड फायरिंग कर दी। जिसके बाद पूरे इलाके में दहशत फैल गया। फिर हल्ला करते हुए माफिया के गुर्गे वहां से फरार हो गए। ये कोई पहला मौका नहीं है, जब राजीव नगर इलाके में जमीन पर अवैध कब्जा करने के लिए फायरिंग हुई हो। इससे पहले भी कई बार ऐसी वारदात हो चुकी है। यहां तक की अवैध कब्जा करने को लेकर खूनी वारदात भी हुई है। कई लोगों की जान जा चुकी है। नेपाली नगर में अधिकांश जमीन बिहार राज्य हाउसिंग बोर्ड की है। फिलहाल आज हुई घटना को लेकर राजीव नगर के थानेदार सुमन कुमार ने कहा कि जानकारी मिली है। उसकी जांच कर रहे हैं। सवाल यह है कि थाना से महज 300 मीटर की दूरी हुई घटना के बाद भी पुलिस ने तेजी क्यों नहीं दिखाई?

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here