थाने के बाहर लाश के साथ बैठा परिवार: कंकड़बाग थाना नहीं कर रहा FIR; साल भर पहले की थी लव मैरिज, रविवार को कमरे में मिली थी लाश

0
33


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पटना2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • रविवार को संदिग्ध परिस्थितियों में फंदे से लटकी मिली 20 साल के मिथिलेश की लाश
  • पिछले साल किया था लव मैरिज, परिवार को है हत्या किए जाने की आशंका

पटना के कंकड़बाग थाना पर एक परिवार अपने लाडले की लाश लेकर पिछले 6 घंटे से खड़ा है। परिवार को शक है उसके लाडले की हत्या की गई है। सुसाइड का रूप देने के लिए उसकी लाश को फांसी के फंदे से लटका दिया गया है। परिवार इस मामले में निष्पक्ष जांच पुलिस से कराना चाहता है। लेकिन, कंकड़बाग थाना की पुलिस मर चुके लड़के के परिवार की बात को लगातार इग्नोर कर रही है।

यह पूरा मामला 20 साल के मिथिलेश कुमार की रहस्यमयी मौत से जुड़ा है। जीजा पवन कुमार के अनुसार सुपौल जिले केे प्रतापगंज के रहने वाला मिथलेश पटना में रहकर एक कॉलेज में पढ़ाई किया करता था। अपने क्लास की ही कंकड़बाग की रहने वाली ज्योति श्रीवास्तव के साथ उसका अफेयर हो गया था। दोनों शादी करना चाहते थे, पर परिवार के आपत्ति जताने पर उस दरम्यान लड़की ने जहर खा लिया था। तब जाकर परिवार ने एक मंदिर में दोनों की शादी करा दी थी। पिछले एक साल से मिथिलेश अपने ससुराल के पास ही किराया के मकान में रह रहा था।

रविवार को ज्योति का कॉल आया और उसने बताया कि मिथिलेश ने सुसाइड कर लिया है। यह सुनकर परिवार पटना पहुंचा। लड़के के परिवार के पटना आने से पहले ही लड़की के परिवार और पुलिस ने मिलकर लाश का पोस्टमार्टम करा दिया। सोमवार को 3 बजे के करीब लाश सौंपी गई और उस वक्त से सभी थाना पर हैं। जीजा का आरोप है कि लड़की के पिता संदीप श्रीवास्तव सबकुछ मैनेज कर रहे हैं। बेटी ने कहा था कि वो ट्यूशन पढ़ाने गई थी, उसी बीच मिथिलेश ने सुसाइड कर लिया। जबकि, पिता कह रहे हैं कि ज्योति हमारे घर आई थी, तब उसने सुसाइड किया था। अब सच कौन कह रहा है? यह बड़ा सवाल है।

इस पूरे मामले पर पटना के सिटी एसपी जितेंद्र कुमार ने निष्पक्ष जांच कराने की बात कही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट की जांच की जाएगी।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here