दारोगा करता था अप्राकृतिक यौनाचार, इसलिए मार डाला: हत्या के आरोपी ने कहा- छुट्‌टी में घर आने पर मोबाइल का लालच दे गंदा काम करता था दारोगा, तंग आकर की हत्या

0
26


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

14 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

4 हत्यारोपियों में 3 को सारण पुलिस ने पकड़ा, मामले का खुलासा करते SDPO।

  • समस्तीपुर जिला के मुफस्सिल थाने में सब इंस्पेक्टर के पद पर कार्यरत था
  • 4 लड़कों ने डुमरी जुअरा हॉल्ट के पास खंती और रड से वार कर की थी हत्या

सारण में 4 दिन पहले दारोगा रवि रंजन हत्याकांड में पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है। पुलिस ने हत्या के पीछे की वजह अप्राकृतिक यौनाचार बताई। इस मामले में पुलिस ने 4 में 3 आरोपियों को पकड़ लिया है। इनमें 2 नाबालिग है। पुलिसिया पूछताछ के दौरान अरोपियों ने बताया समस्तीपुर के मुफ्फसिल थाने में पदस्थापित दारोगा रवि रंजन छुट्टी में गांव आता था तो हमें बुलाकर खुद के साथ गंदा काम (अप्राकृतिक यौनाचार) करने को कहता था। इसके लिए वह मोबाइल देने का लालच देता था। तीन दिन पहले उन्होंने हमें मोबाइल देने के बहाने बुलाया था। पहुंचने पर गलत हरकतें करने लगा। आरोपियों का कहना है कि वे दारोगा से तंग आ गए थे और ऐसा नहीं करना चाहते थे। साथ ही उस दिन मोबाइल भी नहीं दिया इसलिए छुटकारा पाने के लिए चारों ने मिलकर उनकी हत्या कर डाली।

बयान की जांच होगी

SDPO मुनेश्वर प्रसाद सिंह ने बताया कि इस हत्याकांड में 4 आरोपी शामिल थे, जो बगल के ही गांव के रहने वाले हैं। चार में से एक आरोपी फरार हो गया है। 3 आरोपी को पुलिस पकड़ कर थाने ले आई। जहां पर DSP ने आरोपियों से पूछताछ कर इस मामले का खुलासा किया है। SDPO ने बताया कि अप्राकृतिक यौनाचार संबंधी बयान की जांच की जाएगी। अब तक के जांच में हत्या की वजह यही मानी जा रही है। पुलिस को इसके कुछ प्रमाण भी मिले है।

आरोपियों का आचरण संदिग्ध
SDPO के अनुसार चारों आरोपी पास के ही गांव मानुपुर और काजीपुर के रहने वाले है। पूर्व से भी चारों का आचरण लफुआ का रहा है। पुलिस इसके रिकार्ड भी खंगाल रही है। इन आरोपियों के बारे में पुलिस को जानकारी मिली है कि पहले से गलत गतिविधियों में शामिल रहा है। एक फरार आरोपी की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है। तीन आरोपी का उम्र 18 साल से कम है, जबकि एक आरोपी 22 साल का बताया जा रहा है।

मोबाइल पर हुई थी बातचीत
SDPO ने बताया कि दारोगा से इन आरोपियों को मोबाइल पर बातचीत हुई है। कॉल डिटेल्स में सामने आई है। जैसा कि घटना के दिन कुछ लोगों ने पुलिस को बताया कि रात के समय में वह धनौरा से मोबाइल से बातचीत करते जाते हुए देखे गये थे। हत्या के बाद उनका मोबाइल स्वीच आने लगा। उसके बाद परिजनों की चिंता बढ़ी और उसने थाने में रिपोर्ट लिखवाई। मोबाइल के साथ साथ पुलिस ने अवतार नगर थाना क्षेत्र के डुमरी जुआरा हॉल्ट के पास (घटनास्थल) हत्या में प्रयुक्त खंती व रॉड बरामद की थी। इसमें खून लगे हुए थे।

पहले से मारने की थी प्लानिंग
आरोपियों ने पुलिस को बताया कि दरोगा हम सब से अक्सर अप्राकृतिक यौनाचार करवाता था। मंगलवार की संध्या में भी डुमरी जुआरा हाल्ट के पास हमलोगों को फोन करके बुलाया। इसके बाद हम चार लड़के अपने घर से और दरोगा अपने घर से डुमरी जुअरा हॉल्ट पहुंचे। वहां पर आरोपियों ने पहले से खंती व रॉड रखे थे। वहां बुलाकर सुनसान जगह देखकर हमला बोल दिया। चारों ने मिलकर पीट-पीटकर मार डाला।

समस्तीपुर में था कार्यरत
55 साल का दारोगा रवि रंजन मूल रुप से नारांव गांव के रहने वाला था। समस्तीपुर जिला के मुफस्सिल थाने में सब इंस्पेक्टर के पद पर कार्यरत था। अभी नौकरी बची हुई थी। अक्सर गांव आना-जाना रहता था।

खबरें और भी हैं…



Source link