दुकान में काम करने वाले ने व्यवसाई से मांगी रंगदारी: मुजफ्फरपुर पुलिस ने मुख्य आरोपी समेत तीन को किया गिरफ्तार, 10 लाख नहीं देने पर दी थी हत्या की धमकी

0
24


मुजफ्फरपुर20 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पुलिस हिरासत में तीनों आरोपी।

मुजफ्फरपुर जिले के टाउन थाना क्षेत्र के सुतापट्टी के कपड़ा व्यवसाई शिवजी प्रसाद गुप्ता से 10 लाख रुपए की रंगदारी मांगने और हत्या की धमकी देने का खुलासा पुलिस ने कर लिया है। मुख्य आरोपी समेत तीन को गिरफ्तार किया गया। इनके पास से मोबाइल और सिमकार्ड भी बरामद हुआ है। जिससे रंगदारी मांगा गया था।

टाउन थानेदार ओमप्रकाश ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि आरोपियों की पहचान जवाहर लाल रोड के अमरेंद्र श्रीवास्तव, अखडाघाट कर्पूरी नगर के नवीन कुमार और सरैयागंज के गोलू के रूप में हुई है। अमरेंद्र पूर्व में व्यवसाई की दुकान में काम करता था। लेकिन, वह नशा करने का आदि था। उसकी हरकतों से तंग आकर व्यवसाई ने उसे दुकान से निकाल दिया था। इसी के बाद उसने अपने दोनों दोस्तों के साथ मिलकर रंगदारी मांगने की साजिश रची थी। टाउन DSP रामनरेश पासवान ने बताया कि व्यवसाई ने शिकायत दर्ज कराई थी। जिसके बाद कॉल आये नम्बर का लोकेशन ट्रेस किया गया। जिसका लोकेशन सरैयागंज और इसके आसपास पाया गया। टीम गठित कर छापेमारी की गई। वहां से तीनों को एक साथ आज दबोच लिया गया। पूछताछ कर जेल भेजने की कवायद की जा रही है।

तीन बार किया था कॉल

10 नवंबर की शाम एक अंजान नम्बर से व्यवसाई के मोबाइल पर कॉल किया गया। सामने से कहा कि 10 लाख रुपए रंगदारी का जल्द इंतज़ाम करो। अन्यथा गोली मारकर हत्या कर देंगे। व्यवसाई ने पहली बार मे कॉल काट दिया। इसके चंद सेकेंड बाद दोबारा कॉल आया। फिर से रंगदारी मांगते हुए हत्या की धमकी दी। व्यवसायी ने इस बार भी कॉल काट दिया। फिर तीसरी बार कॉल आया और सामने से गुस्से में कहा कि अब अगर उसका कॉल कटा तो हत्या कर देगा। पुलिस में भी नहीं सूचना देने की धमकी दी गयी।

शराब के नशे में किया था कॉल

टाउन DSP ने बताया कि जब तीनों से पूछताछ की तो अपनी गलती स्वीकार करते हुए कहने लगा कि शराब के नशे में रंगदारी मांगने की हिम्मत कर बैठा था। अब अपनी गलती पर पछतावा हो रहा है। टाउन DSP ने बताया कि इन तीनों का पूर्व का रिकॉर्ड खंगाला गया है। कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं मिला है। व्यवसाई द्वारा दर्ज कराए गए FIR और ठोस साक्ष्य के आधार पर गिरफ्तार करते हुए जेल भेजा जा रहा है।

खबरें और भी हैं…



Source link