दो-दो बार लुटी वो…: एक भाई ने दुष्कर्म के बाद निकाह किया, दूसरा विदाई के लिए घर पहुंचा तो लूट ली अस्मत

0
54


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नरकटियागंज20 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

एक भाई ने पहले रेप किया फिर पंचायत के दबाव में निकाह। दूसरा भाई विदाई कराने के बहाने फिर अस्मत को तार-तार कर गया। रेप के बाद जिसका तन ही नहीं, आत्मा तक पहले ही लहूलुहान हो गई हो, दुष्कर्म की दूसरी घटना ने उसे जिंदा लाश बना दिया है। इंसाफ के लिए आज वह दर-दर की ठोकरें खा रही है। मामला नरकटियागंज के शिकारपुर थाना क्षेत्र के एक गांव का है। पीड़िता की फरियाद शिकारपुर थाने ने नहीं सुनी तो वह न्यायालय के शरण में गई। न्यायालय द्वारा कोर्ट परिवाद दायर करने के बाद थाना ने आरोपियों पर FIR दर्ज कर लिया। हालांकि दोनों भाई अभी भी खुलेआम घूम रहे हैं और पीड़िता इंसाफ के लिए एक माह से थाने का चक्कर लगा रही है।

लड़की ने ही लुटवा दी लड़की की इज्जत
FIR में पीड़िता ने बताया है कि दो वर्षों से धुमनगर गदीयानी टोला निवासी चंगेज खां उसके साथ शारीरिक संबंध बनाने के लिए छेड़खानी करता था, जिसकी वजह से वह स्कूल जाना बंद कर दी थी। कुछ दिनों के बाद वह गांव में ही सिलाई सीखने जाने लगी। जब आरोपी युवक को पता चला तो वह सिलाई केंद्र पर पहुंच कर हथियार के बल पर उसको धमकाने लगा, जिसकी शिकायत उसने उस समय शिकारपुर पुलिस से की थी। पुलिस युवक को पकड़ने के लिए उसके घर पर भी गई थी, लेकिन युवक फरार हो गया था। उस समय भी युवक पर कोई केस दर्ज नहीं किया गया। 4 अप्रैल 2020 को लड़की अपने पड़ोस में रहने वाली एक लड़की के साथ सिलाई केंद्र जा रही थी। धोखे से वह लड़की उसको अपने घर ले गई और कमरे में बंद कर दिया। उस कमरे में चंगेज खां पहले से मौजूद था। उसने लड़की के साथ दुष्कर्म किया और कट्टा दिखाते हुए नहीं बताने की धमकी दी। जब पीड़िता ने अपने घरवालों को सारी बात बताई तो वे लोग आरोपी के घर पहुंचे, जहां पंचायत के माध्यम से मामले को यह कहकर रफादफा कर दिया गया कि आरोपी युवक से लड़की की शादी करा दी जाएगी। 11 मई को रेप पीड़िता से आरोपी युवक का निकाह भी पढ़ा दिया गया, लेकिन वह अपने ससुराल नहीं जा सकी।

घर बनने के बाद ससुराल ले जाने का किया था वादा
पीड़िता ने बताया कि निकाह के बाद उसके पति एवं उसके घर के लोग बोले कि अभी घर बन रहा है। घर बन जाने के बाद विदाई कराकर तुमको ले जाएंगे। फिलहाल तुम अपने मायके में ही रहो। उसने मायके में ही रहकर मैट्रिक की परीक्षा दी और उनकी राह देखने लगी। इस बीच उसका पति उसे मिलने तक नहीं आया।

विदाई कराने के नाम पर देवर ने लूट ली इज्जत
पीड़िता ने बताया कि विदाई नहीं होने पर इसके घरवाले परेशान थे। इसी बीच पीड़िता का देवर अंगेज खां उसके घर पहुंचा और बोलने लगा कि तुम्हारी विदाई के लिए उसके घरवाले नहीं आएंगे, क्योंकि दबाव में उसके भाई ने उससे शादी की है। रात में वह वहीं रुक गया।उसने विदाई कराने के नाम पर उसके साथ जबरन दुष्कर्म किया। जाते वक्त उसने भी धमकी दी कि इस बात को किसी को बताएगी तो कहीं की नहीं रहोगी। लोकलाज की वजह से उसने इस बात को अपने घरवालों को नहीं बताई।

जनवरी 2021 में आरोपियों ने विदाई कराने से मना कर दिया
पीड़िता ने बताया कि जब उसके पिता ने आरोपियों के घर जाकर विदाई कराने की बात कही तो उनलोगों ने उनको धक्के मार कर निकाल दिया और उसको स्वीकारने से इंकार कर दिया। इसके बाद वह थाना पहुंची, लेकिन थाना द्वारा कोई कार्रवाई नहीं होने पर वह कोर्ट परिवाद दायर कर शिकारपुर थाना में FIR दर्ज कराई है। पीड़िता ने यह भी बताया है कि 6 फरवरी 2021 को FIR दर्ज हुई, लेकिन अभी तक उसकी गिरफ्तारी नहीं हुई है। दोनों भाई अब उसको जान से मारने की धमकी दे रहे हैं।

थानाध्यक्ष बोले जल्द आरोपितों को गिरफ्तार किया जाएगा
प्रशिक्षु पुलिस उपाधीक्षक सह थानाध्यक्ष, शिकारपुर संदीप गोल्डी ने बताया कि मामला संज्ञान में नहीं था। पीड़िता से शुक्रवार को मुलाकात हुई है। उसका बयान लिया गया है। केस के अनुसंधानक से पूछताछ की जा रही है। बहुत जल्द मामले के सभी आरोपितों को गिरफ्तार किया जाएगा।

खबरें और भी हैं…



Source link