नर्साें ने दी आंदाेलन की चेतावनी: मायागंज अस्पताल से 30 अाॅक्सीजन सिलेंडर गायब, जांच के लिए बनी टीम

0
15


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भागलपुर28 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

एमसीएच वार्ड में ऐसे ही पड़ा रहता है अाॅक्सीजन सिलेंडर।

मेडिकल काॅलेज अस्पताल के एमसीएच वार्ड से 30 से ज्यादा ऑक्सीजन सिलेंडर चाेरी हाेने का खुलासा हुआ है। ये सिलेंडर अप्रैल से लेकर 15 मई के बीच गायब हुए हैं। इन सिलेंडराें की अनुमानित कीमत करीब ढाई लाख रुपए हैं। अस्पताल प्रबंधन ने इसकी जांच के लिए तीन सदस्यीय जांच टीम का गठन किया है। जानकारी के अनुसार, 10 अप्रैल के बाद जब जिले में संक्रमण बढ़ने लगा तो मायागंज अस्पताल में मरीज काफी बढ़ गए। बरामदे तक में मरीज थे। कई मरीजाें काे ऑक्सीजन लगे थे। कई मरीज बाहर से भी सिलेंडर लेकर आए थे।

इसी आपाधापी में काैन कितना सिलेंडर लेकर कहां चला गया, इसका पूरा लेखा-जाेखा न ताे वहां की नर्साें के पास है और न ही अस्पताल प्रबंधन के पास। सेंट्रल पाइपलाइन से ऑक्सीजन का कम फ्लाे की शिकायत के बाद मरीजाें काे अलग से सिलेंडर दिया जाता था। गैस खत्म हाेने पर परिजन सरकारी सिलेंडर लेकर ही बाहर ऑक्सीजन न भरवाने चले जाते थे। इस बीच अगर किसी मरीज की माैत हाे गयी ताे वे शव लेकर चले जाते थे पर सिलेंडर वापस नहीं करते थे। इसके अलावा अस्पताल में सिलेंडर चाेरी करनेवाला गैंग भी सक्रिय था। फ्लाे मीटर तक की चाेरी हाे रही थी।

एक मानव बल काे सिलेंडर ले जाते समय राेका था
जानकारी के अनुसार शिशु विभाग में तैनात एक आउटसाेर्स एजेंसी का मानव बल चंदन कुमार एमसीएच वार्ड से एक सिलेंडर लेकर जा रहा था। नर्साें ने पूछा ताे कहा कि अाॅक्सीजन भरवाने जा रहे हैं। जब नर्स ने पूछा ताे उसने खुद को शिशु विभाग का कर्मचारी बताया था।

तीन दिन में जांच टीम काे देनी है रिपाेर्ट : अधीक्षक
अधीक्षक डॉ. असीम कुमार दास ने कहा जांच के लिए तीन सदस्यीय टीम का गठन किया है। डॉ. अर्जुन प्रसाद, डॉ. पीबी मिश्रा व डॉ. कुमार गौरव टीम में हैं। यह टीम अब इससे जुड़े कर्मियाें से पूछताछ करेगी। तीन दिन के अंदर जांच रिपोर्ट देनी है। जरूरत पड़ी ताे थाने में मुकदमा भी दर्ज कराया जायेगा।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here