पशुपति पारस को RJD विधायकों की सलाह: बोधगया के MLA कह रहे- पुराने घर में आ जाएं पशुपति; मखदुमपुर MLA बोले- काम से कोयला हैं पारस

0
11


गया35 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

राजद विधायक सर्वजीत कुमार।

लोजपा की घटना पर जिले के विधायक भी अपनी नजर बनाए हैं। कुछ चिराग पासवान के साथ सहानुभूति जताने में जुटे हैं तो कोई पशुपति पारस को राजद में शामिल होने की बात कह रहे हैं। बोधगया विधानसभा के राजद विधायक सर्वजीत कुमार ने पशुपति पारस को पुराने घर में लौट जाने की बात कही है। उन्होंने दावा किया है कि फोन पर पारस से बात हुई थी। बातचीत के दौरान राजद में आने की बात हमने उनसे कही है।

सर्वजीत का कहना है कि दलितों की स्थिति ठीक नहीं है। ऐसे में पशुपति पारस का राजद के साथ होना दलितों के हित में होगा। ऐसे भी उनका पुराना घर राजद ही रहा है। कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए। उन्होंने दावा करते हुए कहा कि उन्हें भरोसा है कि पशुपति पारस कहीं नहीं जाएंगे। वह राजद में ही आएंगे।

वहीं गुरुआ के विधायक विनय कुमार यादव का कहना है कि राजद के वरीय नेताओं ने चिराग के प्रति अपनी सहानुभूति जताई है। जैसा पार्टी का फैसला लेती है, वही ठीक होगा। यदि पशुपति पारस पुराने घर में लौट आते हैं, तो अच्छी बात होगी।

नाम में पारस, काम में कोयला से भी काला

जहानाबाद के मखदुमपुर से राजद विधायक सतीश दास का कहना है कि नाम में पारस काम में कोयला से भी काला है पशुपति पारस। दास का कहना है कि भाजपा व जदयू के घिनौने खेल में चिराग पासवान फंस गए हैं। उनकी सहानुभूति चिराग पासवान के साथ है। दुख की घड़ी में चिराग को अकेले छोड़ कर जाना किसी मायने में उचित नहीं है। रामविलास पासवान के गए अभी कुछ ही महीने हो रहे हैं। ऐसे में पार्टी को तोड़ने की राजनीति ठीक नहीं है।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here