पुलिस कस्टडी में युवक की मौत ने लिया राजनीतिक मोड: विधायक ने पुलिस पर बर्बरता का लगाया आरोप, बोले – उन पर भी बरसाई गई लाठियां

0
13


बेतिया42 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

बेतिया में होली के दिन पुलिस कस्टडी में एक युवक की मौत का मामला अब राजनीति रंग ले चुका है। सिकटा के माले विधायक वीरेंद्र गुप्ता ने पुलिस पर बर्बरता का आरोप लगाया है। साथ ही उन्होंने पुलिस पर उनकी भी पिटाई करने का आरोप लगाया है।

बलथर थाने में आगजनी और हवलदार की मौत के मामले में पुलिस ने 14 लोगों को गिरफ्तार किया है। इनमें से कई घायल भी हैं जिनका इलाज चल रहा है। आज उन सभी से मिलने माले विधायक वीरेंद्र गुप्ता जीएमसीएच पहुंचे। गिरफ्तार लोगों से मिलने के बाद पुलिस पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं।

थाना पूरी तरह से दलालों का अड्डा

उन्होंने कहा, ‘सभी गिरफ्तार व्यक्ति निर्दोष हैं। ये सभी मजदूर हैं। दिनभर खेतों में काम किए और रात में अपने घरों में जाकर आराम कर रहे थे। उसी दौरान पुलिस इन्हें पकड़ कर लाई है। यह सरासर पुलिसिया अत्याचार है। बलथर थाना पूरी तरह से दलालों का अड्डा बना हुआ है। कल पुलिस हिरासत में अनिरुद्ध यादव की मौत हुई है उसके खिलाफ लोगों का आक्रोश नहीं था। वहां पुलिस रोज अवैध वसूली करती है। गांव में अगर किसी का जमीनी विवाद हो जाता है तो पुलिस दोनों पक्षों से भारी उगाही करती है।

उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा, ‘अगर कोई गरीब व्यक्ति वहां एफआईआर करने जाता है तो उनका एफआईआर नहीं किया जाता है। बलथर पुलिस दबंगों के पक्ष में काम करती है। चार्जशीट लिखने के लिए भी पुलिस पैसा लेती है। बलथर थाने पूरी तरह से दलालों का अड्डा बन जाने के खिलाफ ग्रामीणों का आक्रोश है।’

वसूली के लिए बुलाया गया था अनिरुद्ध को

उन्होंने कहा कि होली के दिन शनिवार को आर्यानगर के चौकीदार विकास कुमार अनिरुद्ध को थाने बुलाकर ले गया था। अनिरुद्ध डीजे बजा रहा था उसी मामले में वसूली करने के लिए उसे थाने बुलाया गया था। माले विधायक ने कहा, ‘होली का समय था, डीजे बजाना कोई बड़ी बात नहीं थी। लेकिन वसूली का मामला था, पुलिस उसे जेल भी भेज सकती थी। पुलिस बर्बरता से उसका पिटाई करती रही जिससे उसकी मौत हुई है।’

विधायक ने इस पूरे मामले की जांच की मांग की है और दोषी पर कार्रवाई करने की बात कही है। विधायक ने बताया कि अगर उचित कार्रवाई नहीं होती है, तो हम लोग अदालती कार्रवाई में भी जाएंगे।

घटना के सूचना पर पहुंचे विधायक पर भी पुलिस ने बरसाई लाठियां

वहीं विधायक ने बताया कि कल घटना का सूचना मिलने पर मैं भी वहां पर पहुंचा तो पुलिस द्वारा मुझ पर भी लाठियां बरसाई गई। मुझे भी चोट लगी है। मैं भी अपना इलाज जीएमसीएच अस्पताल में करवा रहा हूं। बिहार में भाजपा और जेडीयू की जो सरकार है उसमें पुलिसिया जुर्म चरम पर है। पूरे माफियाओं और अपराधियों के पक्ष में पुलिस काम करती है।

खबरें और भी हैं…



Source link