फुलवारी शरीफ जेल के सिपाहियों की बड़ी लापरवाही: PMCH के कैदी वार्ड से खुद को सिपाही बता फरार हुआ पटना सिटी का कुख्यात अपराधी सोनू शर्मा

0
24


  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Bihar News; Notorious Criminal Of Patna City Sonu Sharma Escaped From The Prisoner Ward Of PMCH As A Soldier

पटना9 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

सोनू शर्मा पिछले 4 दिनों से PMCH के कैदी वार्ड में एडमिट था।

फुलवारी शरीफ जेल के सिपाहियों ने बड़ी लापरवाही बरती है। इनकी वजह से इलाज के लिए लाया गया एक कुख्यात अपराधी PMCH से फरार हो गया है। जिसका नाम सोनू शर्मा है। ये पटना सिटी में आलमगंज थाना के तहत भद्र घाट का रहने वाला है। पिछले 4 दिनों से वो PMCH के कैदी वार्ड में एडमिट था। लेकिन, उसने ऐसी सेटिंग की कि जिसका अंदाजा किसी को नहीं था। आपको जानकार आश्चर्य होगा कि भागने के लिए इस कुख्यात अपराधी ने कैदी वार्ड के पीछे के रास्ते या खिड़की का सहरा नहीं लिया। इसने कैदी वार्ड के मेन गेट पर तैनात सिपाही को खुद के बारे में जेल का सिपाही बताया। उसे कहा कि वो फुलवारी शरीफ जेल का सिपाही है। गेट पर तैनात सिपाही ने उसकी कही बातों को आसानी से मान लिया और उसे जाने दे दिया। जिसके बाद सोनू शर्मा आसानी से फरार हो गया।

मामले को दबाने की हुई कोशिश
इस मामले को दबाने की भी पूरी कोशिश हुई। दरअसल, सोनू शर्मा को फुलवारी शरीफ जेल से इलाज के लिए 24 जून को PMCH लाया गया था। तब से ही उसे कैदी वार्ड में रखा गया। इसे फुलवारी शरीफ जेल के 4 सिपाही लेकर आए थे। इनकी आपसी सेटिंग ऐसी थी कि रविवार की रात बगैर किसी सीनियर को बताए दो सिपाही अपराधी पर निगरानी रखने की ड्यूटी से गायब हो गए। सिर्फ दो सिपाही थे। दोनों सिपाही सुबह होने तक गहरी निंद में थे। इसी बीच सोनू शर्मा ने अपनी हथकड़ी को सड़काया। उसे निकाला और फिर फरार हो गया। दोपहर बाद यह मामला PMCH में बने पीरबहोर थाना की TOP प्रभारी को इसकी जानकारी हुई। फिर तो हड़कंप मच गया।

जेल में हो जाता था बेहोश
पटना सिटी के हाजीगंज इलाके में इलेक्ट्रॉनिक कारोबारी कल्लू जायसवाल की गोली मारकर हत्या पिछले साल हुई थी। इसके साथ ही खांजेकला में जमीन कारोबारी को भी गोली मारी गई थी। इन दोनों ही वारदातों में फरार हुए सोनू शर्मा का ही नाम सामने आया था। इसके अलावा हत्या और रंगदारी के साथ ही चेन स्नेचिंग के भी मामले इसके उपर पहले से दर्ज हैं। दो हफ्ते पहले दानापुर थाना की पुलिस ने इसे हथियार और गोली के साथ पकड़ा था। आर्म्स एक्ट के मामले में वहीं से उसे फुलवारी शरीफ जेल भेजा गया था। जेल में वो पिछले कई दिनों से बेहोश हो जा रहा था। इसी वजह से इलाज के लिए उसे PMCH भेजा गया था। लेकिन, अब यह साफ हो गया है कि जेल के अंदर उसने बार-बार बेहोश होने का नाटक किया था। इस मामले में पर पटना के SSP उपेंद्र कुमार शर्मा ने बताया कि लापरवाही बरतने वाले दो सिपाहियों को संस्पेंड कर दिया गया है। साथ ही फरार अपराधी के खिलाफ पीरबहोर थाना में FIR दर्ज की गई है।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here