बक्सर में जाली नोटों के साथ गिरफ्तारी मामला: आमसारी शराबकांड से पहले 18 हजार, UP में भांग की दुकान पर खपाए 12 हजार के नोट

0
12


बक्सरएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

जाली नोटों के तस्करों के साथ पुलिस अधिकारी।

बक्सर पुलिस 2 लाख रुपए के जाली नोट के साथ 3 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। बताया गया कि आमसारी जहरीली शराब कांड में जुड़े राजीव रंजन को गिरफ्तार करने वाली पुलिस को जाली नोटों के तस्कर भी पुलिस के हाथ लग गये। जो UP-बिहार में कुछ नोट खपाने में भी कामयाब हो गए हैं। पुलिस भी नोटों को देखकर हैरान है, क्योंकि ये हूबहू असली नोटों की तरह हैं। होलोग्राम और वाटर मार्क भी बना हुआ है। सिर्फ मशीन से ही यह पहचान में आता है। नोटों की बारीकी से जांच की जा रही है।

जाली नोटों की बड़ी खेप के साथ तस्कर धराए: बलिया बॉर्डर से घुसते वक्त अपराधियों को दबोचा

पुलिस की गिरफ्त में जाली नोट।

पुलिस की गिरफ्त में जाली नोट।

SP नीरज कुमार सिंह ने बताया कि शराबकांड के खुलासे के दौरान ही गुप्त सूचना पर पुलिस ने जाली नोट गिरोह का भी भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने सूचना मिलते ही चक्की OP क्षेत्र में छापेमारी की, जहां से 3 लोग गिरफ्तार हुए। वहीं, कई लोग पुलिस को चकमा देकर फरार हो गए। फरार आरोपियों को पुलिस ने चिन्हित कर गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है।

पुलिस ने मौके से अशोक कुमार पांडेय, विवेक कुमार पांडेय और राजीव रंजन पाठक को गिरफ्तार किया। उनके पास 2 लाख 1 हजार रुपए के जाली नोट बरामद हुए। पुलिस के पूछताछ में राजीव रंजन ने बताया कि शराब कांड से पूर्व 18 हजार रुपये के जाली नोटों को खपाया था। इसके अलावे राजीव रंजन यूपी में भांग की दुकान पर 12 हजार रुपए जाली नोट खपाया है।

बताया गया कि जाली नोट गिरोह ने असली नोटों की तरह फिल्टर कर बाजारों में 200, 500 और 2000 के नोटों को खपाया है। जाली नोटों के कारोबार में UP के बलिया और जिले के कई लोग सम्मिलित हैं। पुलिस ने जिन 3 लोगों को गिरफ्तार किया, उसमे से 2 UP के बलिया जिले के हैं और 1 तस्कर बक्सर जिले के सिमरी थाना क्षेत्र का बताया जा रहा है।

खबरें और भी हैं…



Source link