बाइक की ठोकर से बचा तो गला दबा दिया: बेतिया में बाइक से कुचल अधमरा हो गया था 9 साल का मासूम, सवारों ने फिर दबा दिया उसका गला; शव को 1 KM दूर फेंका

0
42


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बेतिया40 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

शव मिलने के बाद बदहवाश रोती मां।

  • नरकटियागंज के बरवा गांव में हुई घटना
  • परिजन लगा रहे दो युवकों पर हत्या का आरोप

बेतिया के नरकटियागंज में एक तेज रफ्तार बाइक ने 9 साल के मासूम को जोरदार टक्कर मार दी। हादसे में वह गंभीर रूप से घायल था, लेकिन सांसें चल रही थीं। बाइक सवार ने उसे अस्पताल में ले जाने के बजाय गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। अपनी गलती छुपाने के लिए मासूम की जान ले ली और शव को छुपा दिया। देर रात जब इलाके के लोग सो गए, तब दोनों ने शव को बाइक से 1 किमी दूर ले जाकर खेत में फेंक दिया। गुरुवार को मासूम की लाश मिली तो परिजनों के होश उड़ गए। इंसानियत को शर्मसार करने वाली यह घटना शिकारपुर थाना क्षेत्र के बिनवलिया बरवा गांव की है। मासूम के शव मिलने से परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। वे दो लोगों पर हत्या का आरोप लगा रहे हैं। मृतक की पहचान सुखाडी मांझी के पुत्र रंजय कुमार (9 साल) के रूप में की गई है। सूचना मिलते ही स्थानीय थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में ले लिया। थानाध्यक्ष संदीप गोल्डी ने बताया कि प्रथमदृष्टया मामला गला दबा कर हत्या का प्रतीत हो रहा है। बच्चे की मौत के कारणों का पता लगाया जा रहा है। शव को पोस्टमार्टम के लिए बेतिया भेज दिया गया है।
रंजय बुधवार से था गायब
रंजय बुधवार से ही घर से गायब था। रात के 8 बजे वह शौच करने जो गया, वह घर वापस नहीं आ सका था। परिजनों ने काफी खोजबीन की लेकिन उसका कहीं पता नही चला। गुरुवार की सुबह रंजय का शव सरेह में फेंका हुआ मिला। इसके बाद पूरे गांव में सनसनी फैल गई। मासूम के गले को गंजी से घोंटने की बात कही जा रही है। मां सुखला देवी ने दो युवकों पर हत्या का आरोप लगाया है। पुलिस बयान के आधार पर जांच कर रही है।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here