बिहटा IIT पहुंचे तमिलनाडु के बच्चे: राज्यपाल ने किया स्वागत, कहा-सभी बच्चे जाने से पहले बिहार के इतिहास को जान लें

0
25
बिहटा IIT पहुंचे तमिलनाडु के बच्चे: राज्यपाल ने किया स्वागत, कहा-सभी बच्चे जाने से पहले बिहार के इतिहास को जान लें


पटना2 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

‘एक भारत-श्रेष्ठ भारत’ युवा संगम कार्यक्रम के दूसरे चरण के तहत तमिलनाडु के कई उच्च शिक्षण संस्थानों के 45 विद्यार्थियों का ग्रुप बिहटा स्थित आईआईटी पटना परिसर पहुंचा। अतिथियों के रूप में सभी विद्यार्थियों का फूल-मालाओं से जोरदार स्वागत किया गया। बिहार आने वाली युवा संगम की यात्रा का राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आलेंकर और आइआइटी पटना के निदेशक प्रो टीएन सिंह ने स्वागत किया

आईआईटी कैम्पस को बिहार का नोडल इंस्टिट्यूट बनाया गया है। जबकि तमिलनाडु का नोडल इंस्टिट्यूट एनआईटी तिरुचिरापल्ली को बनाया गया है। विद्यार्थियों का यह ग्रुप यहां 16 मई तक रहेगा। इनके साथ पांच संकाय सदस्य भी आए हैं। इस यात्रा का उद्देश्य दोनों राज्यों के बीच समृद्ध संस्कृति एवं पारंपरिक विनयम और विचारों के आदान-प्रदान को बढ़ावा देना है।

इसके अतिरिक्त पर्यटन परंपरा, प्रगति टेक्नोलॉजी व परस्पर संपर्क भी कार्य सूची में शामिल हैं। युवा संगम के दूसरे चरण के शुरुआत होने पर बिहार के राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आलेंकर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का उद्देश्य है कि एक भारत श्रेष्ठ भारत हो, जिसके तहत यह युवा संगम की शुरुआत की गई है। यह काफी अच्छा कार्यक्रम है। दक्षिण भारत से बच्चे बिहार आए हैं। उनका मैं स्वागत करता हूं और जाते समय बिहार के इतिहास और स्मृति के बारे में जानने का कार्य करेंगे।

तमिलनाडु से आए 40-45 बच्चों को शुक्रवार को बिहार के राजभवन में भी जाने का मौका मिलेगा। राज्यपाल और मुख्यमंत्री समेत अन्य वरिष्ठ अधिकारियों से भी मुलाकात करेंगे। साथ ही देश के सबसे बड़े रबर डैम गया डैम भी जाएंगे। मौके पर एनडीआरएफ कमांडेड सुनील कुमार, केंद्रीय टीम और बिहार सरकार की टीम उपस्थित थी।



Source link