बिहार में गर्मी के मौसम में घना कोहरा!: पूर्वी इलाकों में गंगा से सटे क्षेत्रों में दिखा कोहरा, मौसम वैज्ञानिकों ने कहा पूर्वी हवा का प्रभाव

0
36


  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Fog Appeared In The Areas Adjacent To The Ganges In The Eastern Areas, Meteorologists Said The Effect Of The East Wind

पटना25 मिनट पहले

प्रचंड गर्मी के बीच कोहरे की बात की जाए तो आश्चर्य लाजिमी है, लेकिन बिहार में ऐसा ही चौंकाने वाला मौसम हो रहा है। राज्य में पारा 40 पार हो गया लेकिन गंगा से सटे पूर्वी इलाकों में कोहरा पड़ रहा है। भागलपुर और गंगा से सटे आस पास के इलाकों में ठंड की तरह कोहरा पड़ रहा है, लेकिन गर्मी पर इसका बहुत असर नहीं है। मौसम विभाग इस चौंकाने वाले मौसम के पीछे पूर्वी हवा के प्रभाव को कारण बता रहा है। एक्सपर्ट का कहना है कि तेज पूर्वी हवा के प्रभाव से ह्यूमडिटी बढ़ गई है जो कोहरे के रूप में दिखाई पड़ रही है। ऐसा राज्य के पूर्वी क्षेत्र के गंगा तट से सटे क्षेत्र के एक दो स्थानों पर देखा जा सकता है। हालांकि इससे गर्मी पर कोई असर नहीं पड़ेगा, राज्य में गर्मी का प्रभाव 4 दिनों तक स्थिर रहेगा।

जानिए क्या कहते हैं एक्सपर्ट

मौसम विभाग के एस के पटेल बताते हैं कि पिछले 3 दिनों से पूर्वी हवा का प्रभाव हो रहा है जिससे इस कारण से गंगा से सटे इलाकों में ह्यूमिडिटी बढ़ गई है। सरफेस पर इस्टरली विंड चलने के कारण ही ह्यूमडिटी बढ़ जाती है और फिर गंगा के किनारे वाले इलाकों में कोहरा दिखाई देने लगता है। राज्य में पूर्वी हवा का प्रभाव पिछले 3 दिनों से है जो ह्यूमिडिटी बढ़ाने का काम कर रहा है। भागलपुर सहित पूर्वी क्षेत्र के गंगा से सटे इलाकों में ऐसा मौसम दिखाई दे रहा है। कोहरा के कारण भी तापमान अधिक रहेगा, इस कारण से कोई बहुत राहत नहीं होगी। एक्सपर्ट का कहना है कि इस मौसम फॉग चौंकाने वाला नहीं, ऐसा पूर्वी हवा के प्रभाव से ह्यूमिडिटी बढ़ जाने के कारण होता है। न्यूतम तापमान स्पोर्ट करता तो इन इलाकों में ठंड का भी एहसास होने लगता, लेकिन ऐसा नहीं हो रहा है इस कारण से गर्मी में कोई खास राहत नहीं होगी।

4 दिनों तक 40 डिग्री के आस पास रहेगा तापमान

मतौसम विभाग के मुताबिक 26 मार्च तक दिन के तापमान में कोई विशेष बदलाव नहीं होगा। आने वाले 4 दिनों तक अधिकतम तापमान 40 डिग्री के आस पास ही रहेगा। सामान्य से तापमान अधिक होने के कारण गर्मी का प्रभाव भी अधिक होगा जबकि राज्य में 8 से 10 किलाेमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही पछुआ हवा के कारण कुछ इलाकों में सुबह काफी राहत होगी। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि 26 मार्च के बाद फिर तापमान में क्रमिक वृद्धि देखने को मिल सकती है। हालांकि दिन की गर्मी लोगों को परेशान करने वाली ही होगी, ऐसे में सेहत को लेकर भी अलर्ट रहना होगा।

सतह से 1.5 किलो मीटर पर हवा का प्रभाव

मौसम विभाग का कहना है कि सतह से 1.5 किलो मीटर पर पछुआ हवा का प्रभाव प्रारंभ हो गया है। इस कारण से ही तापमान में थोड़ी सी राहत है। पछुआ हवा की गति 8 से 10 किलो मीटर प्रति घंटे की है। इन मौसमी कारकों के प्रभाव से अगले 4 दिनों तक मौसम पूरी तरह से शुष्क रहेगा और आसमान भी साफ रहेगा। दिन के तापमान में कोई खास बदलाव होने का पूर्वानुमान नहीं है, लेकिन अधिकतम तापमान के सामान्य से अधिक होने के कारण गर्मी का प्रभाव रहेगा।

24 घंटे में गर्मी से राहत नहीं

मौसम विभाग का कहना है कि 24 घंटे में राज्य के मौसम में थोड़ा बहुत उतार चढ़ाव रहा। दोपहर बाद आसमान में थोड़े बाद रहे लेकिन इसके बाद भी गर्मी से राहत नहीं मिली है। धूप का प्रभाव कम नहीं हो रहा, लेकिन रात में गर्मी परेशान करने वाली है। मौसम लगभग शुष्क बना रहा और आसमान भी सफ रहा। इस दौरान सबसे कम न्यूनतम तापमान 19.8 डिग्री गया में दर्ज किया गया, जबकि राज्य का औसत न्यूनतम तापमान 20 से 22 डिग्री के आस पास रिकॉर्ड किया गया। वहीं सर्वाधिक अधिकतम तापमान 40.7 डिग्री बक्सर में रिकार्ड किया गया जबकि राज्य का अधिकतम औसत तापमान 36 से 38 डिग्री के आस पास रिकॉर्ड किया गया है।

38 से 40 डिग्री के आस पास रहेगा पारा

राज्य का अधिकतम तापमान 38 से 40 डिग्री के आस पास ही पारा रहेगा। सुबह से ही राज्य में अधिकतम तापमान 25 डिग्री पहुंच जा रहा है। बुधवार को पटना का तापमान सुबह से ही 26 डिग्री है। मौसम विभाग का कहना है कि राज्य के अधिकतर जिलों में दिन का तापमान 38 से 40 डिग्री के आस पास होगा। पटना का तापमान 38 से 39 डिग्री के आस पास होगा। मौसम विभाग का कहना है कि राज्य के पूर्वी इलाकों में गंगा से सटे क्षेत्रों में थोड़ा मौसम राहत देने वाला होगा, इन क्षेत्रों में पूर्वी हवा का प्रभाव होने के कारण नमी बढ़ेगी जिससे सुबह कोहरा धुंध जैसा मौसम होगा। पश्चिमी हवा के प्रभाव के बाद मौसम बदल जाएगा।

खबरें और भी हैं…



Source link