बिहार में BFA के बाद MFA की पढ़ाई नहीं: MFA करने बाहर गए 11 स्टूडेंट्स ने पटना आर्ट्स कॉलेज में लगाई चित्र प्रदर्शनी

0
103
बिहार में BFA के बाद MFA की पढ़ाई नहीं: MFA करने बाहर गए 11 स्टूडेंट्स ने पटना आर्ट्स कॉलेज में लगाई चित्र प्रदर्शनी



  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • 11 Students Who Went Out To Do MFA Put Up A Photo Exhibition In Patna Arts College

पटनाएक घंटा पहलेलेखक: प्रणय प्रियंवद

पटना आर्ट कॉलेज में ग्राफिक्स से जुड़े ओल्ड स्टूडेंट्स की पेंटिंग प्रदर्शनी लगाई गई। 9 मई से 15 मई तक इसका आयोजन आर्ट कॉलेज में किया गया। आर्ट्स कॉलेज के प्राचार्य अजय कुमार पांडेय और शिक्षिका डॉ. रेखा कुमारी ने बताया कि 11 स्टूडेंट्स की पेंटिंग की प्रदर्शनी पटना आर्ट कॉलेज में लगाई गई। इनमें से ज्यादातर स्टूडेंट्स BFA करने के बाद MFA करने के लिए बिहार से बाहर रह रहे हैं।

प्रदर्शनी में इन कलाकारों ने अपनी पेंटिंग लगाई

अजीत पंडित, अमित कुमार, अम्रिता कुमारी, आशा पांडेय, दिव्या सिंह, किरण कुमारी, नीलेश कुमार, रंजन कुमार, सौरभ दिवाकर, शुभम कृष्णा, राखी कुमारी।

छापा कला को आगे लाने की कोशिश

छापाकला, कला की बहुत पुरानी परंपरा है। यह कैनवास पर पेटिंग करने से अधिक कठिन है। इसकी खासियत यह है कि एक ब्लॉक से कई पेंटिंग निकले जा सकते हैं। पटना आर्ट कॉलेज इस पारंपरिक कला को न सिर्फ संजो कर रखे हुए हैं बल्कि आगे भी बढ़ा रहा है। पटना आर्ट कॉलेज में इस फैकल्टी के कामकाज को आगे रखने के लिए डॉ. राखी कुमारी के नेतृत्व में यह प्रदर्शनी लगाई गई।

दिव्या सिंह की पेंटिंग आकर्षण के केंद्र में

प्रदर्शनी में दिव्या सिंह की पेंटिंग कंवर्सेशन आकर्षण के केन्द्र में रही। इस पेंटिंग में दो लड़कियां बैठी दिखती हैं। एक के ऊपर पंख उगे हुए हैं। एक हरे रंग की गिरगिट पंख वाली लड़की से बिना पंख वाली लड़की की तरफ बढ़ती हुई दिख रही है। नीलेश की पेटिंग ने बिहार के लोक पर्व छठ को दर्शाया। नीलेश ने पौराणिक इतिहास के पात्रों पर भी पेटिंग बनाई है। उन्होंने रावण के अहं और शिव को दिखाया है। अजीत पंडित ने इनर पावर पेंटिंग में आत्मबल को दिखाया है।

खबरें और भी हैं…



Source link