बेऊर जेल में सुरक्षा का अलर्ट: 10 वाच टॉपर BMP जवानों की होगी तैनाती, CCTV का बदलेगा लोकेशन, खाली पदों पर होगी बहाली

0
34


पटना30 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पटना के केंद्रीय कारागार बेऊर में कुल 5092 बंदी है जिसमें 4929 पुरुष बंदी और 163 महिला बंदी हैं।

  • खाने में सुधार के साथ डॉक्टर और दवाओं में चल रही मनमानी होगी दूर

केंद्रीय कारागार बेऊर की सुरक्षा को लेकर अलर्ट किया गया है। CCTV के लोकेशन से लेकर कारगार की सुरक्षा की हर कड़ी को मजबूत किया जाएगा। कारागार में बनाए गए 10 वाच टॉवर पर BMP जवानों की तैनाती होगी। सुरक्षा को लेकर पूरा नेटवर्क एक्टिव किया जा रहा है। DM के आदेश के बाद सुरक्षा को लेकर हर प्वाइंट पर काम किया जा रहा है। जेल में खाने से लेकर दवा और डॉक्टर की चल रही रही मनमानी भी पकड़ी गई है। सुरक्षा के साथ साथ जल्द ही पूरी व्यवस्था बदल जाएगी।

5 हजार से अधिक बंदी

पटना के केंद्रीय कारागार बेऊर में कुल 5092 बंदी है जिसमें 4929 पुरुष बंदी और 163 महिला बंदी हैं। इनकी सुरक्षा को लेकर हर स्तर से प्रयास किया जा रहा है। हाल ही में देश के कई स्टेट में जेल में हुई घटनाओं से सबक लेकर सुरक्षा की कड़ी में काम किया जा रहा है। बंदियाें पर निगरानी को लेकर भी व्यवस्था बढ़ाई जा रही है।

कर्मचारियों की कमी से जूझ रही जेल

केंद्रीय कारागार बेऊर में कर्मचारियों की भारी कमी है। रिक्त पदों पर भर्ती नहीं होने से सुरक्षा के साथ साथ व्यवस्था प्रभावित हो रही है। रिक्त पदों में प्रधान लिपिक का एक, उच्च कक्षपाल का एक, कक्षपाल का 33, सफाई मजदूर का 13, रसोईया का 3, एक्सरे टेक्नीशियन का एक, लैब टेक्नीशियन का एक और सहायक अधीक्षक का एक पद खाली पड़ा है। ऐसे में सुरक्षा को लेकर संकट है। पटना DM डॉ चंद्रशेखर सिंह ने सुरक्षा के लिए बीएमपी के जवान की प्रतिनियुक्ति को लेकर और खाली पदों पर तैनाती के लिए बेऊर जेल प्रशासन को कारा महानिरीक्षक एवं अपर मुख्य सचिव गृह विभाग से अनुरोध का निर्देश दिया है। बता दें कि 1994 से आदर्श केंद्रीय कारा बेऊर बना है। बेऊर से पहले 1890 से 1994 तक जेल पटना जंक्शन के पास था, लेकिन अब बेऊर में है। 19 मार्च 2021 से जितेंद्र कुमार जेल सुपरिटेंडेंट के रूप में कार्यरत हैं।

DM के आदेश पर बदली जा रही व्यवस्था

पटना डीएम डॉ. चंद्रशेखर सिंह ने आदर्श केंद्रीय कारा बेउर में सुरक्षा के साथ व्यवस्था बढ़ाने का निर्देश दिया है। जेल का निरीक्षण करने के बाद जो कमी दिखाई दी है उसके बाद डीएम ने बेऊर जेल प्रशासन को गंभीर होने का निर्देश दिया है। जेल के अस्पताल, रसोई, पुस्तकालय के साथ बंदी गृह में व्यवस्था सही करने को कहा है। डीएम बंदियों के फीडबैक के बाद भोजन की गुणवत्ता में सुधार करने का निर्देश दिया है। सुरक्षा में कहीं कोई चूक नहीं हो इसके लिए सबसे पहले CCTV का लोकेशन सही करने का निर्देश दिया है। जेल में 10 वॉच टावर पर BMP जवानों की तैनाती के साथ सुरक्षा के हर इंतजाम को पुख्ता करने को कहा गया है।

जेल में मुलाकात होगी आसान

जेल में ई- मुलाकाती सुविधा को लेकर भी विशेष तैयारी चल रही है। कोरोना काल में मुलाकात का सिस्टम बदल दिया गया है। अब इस सिस्टम को पटरी पर लाने की व्यवस्था बनाई जा रही है। ई मुलाकात से सिस्टम आसान हो जाएगा। इस व्यवस्था को पूरी तरह से व्यवस्थित करने का निर्देश है, जिससे बंदियों को अपने परिजनों से नियमानुसार मुलाकात हो सके। भोजन की गुणवत्ता में सुधार करने का निर्देश दिया। जेल परिसर में चल रहे पुस्तकालय में उपयोगी पुस्तकें रखने का निर्देश देने के साथ पुस्तकालय में प्रतियोगिता परीक्षा एवं मासिक पत्रिका भी रखी जाएगी। दवा की स्थिति और डॉक्टर की उपस्थिति में चल रहे खेल पर भी अंकुश लगेगा। जेल सुपरिटेंडेंट से इसकी हर रिपोर्ट मांगी गई है।

खबरें और भी हैं…



Source link