बोरिंग कैनाल रोड में FBB के पिछले हिस्से में आग: तेज धुआं देख बुटीक स्टाफ दौड़ा, फायर अलार्म पर भागे कस्टमर-स्टाफ, 40 मिनट तक अफरातफरी

0
37


  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Bihar News; Fire At Rajapur FBB Building Created Chaos For 40 Minutes In Boring Canal Road Patna Area

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पटना4 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

ईस्ट बोरिंग कैनाल रोड के लक्ष्मी इन्क्लेव में ग्राउंड से चौथे फ्लोर तक है फैशन बिग बाजार।

  • FBB के स्टोर मैनेजर की सूझबूझ से टला बड़ा हादसा

पटना के ईस्ट बोरिंग कैनाल रोड में लक्ष्मी इन्क्लेव है। इस बिल्डिंग में ग्राउंड से चौथे फ्लोर तक फैशन बिग बाजार है। आज मंगलवार शाम 5:30 बजे के करीब इसके बेसमेंट में शॉर्ट सर्किट की वजह से आग लगी। सिर्फ धुआं उठ रहा था। बिजली के पैनल में आग लगी थी। तुरंत बिल्डिंग की मेन लाइन काट दी गई। आग इसके पिछले हिस्से में लगी। इसी बिल्डिंग के पांचवें फ्लोर पर अलग-अलग कंपनियों के ऑफिस हैं।

बेसमेंट में शॉर्ट सर्किट के बाद धुआं उठा तो अलर्ट हुए लोग।

बेसमेंट में शॉर्ट सर्किट के बाद धुआं उठा तो अलर्ट हुए लोग।

मिली जानकारी के अनुसार, शाम 5:30 बजे के बाद अचानक बेसमेंट से धुआं निकलने लगा। तेज धुआं निकलता देख बेसमेंट में स्थित बुटीक का स्टाफ हरकत में आया। उसने सभी को खबर किया। फिर FBB के स्टोर मैनेजर हरि ओम हरकत में आए। फायर ब्रिगेड को कॉल करने के साथ ही अपने स्टोर से सभी कस्टमर्स और स्टाफ को बाहर निकाला। बिल्डिंग का फायर अलार्म बजाया। साथ ही खुद से 4 फायर एक्सटिंगिशर का इस्तेमाल किया।

आग लगने की बात फैलते ही FBB के बाहर लोगों की भीड़ जुट गई।

आग लगने की बात फैलते ही FBB के बाहर लोगों की भीड़ जुट गई।

उधर, सूचना मिलने के चंद मिनटों के बाद फायर ब्रिगेड की टीम, एसकेपुरी थाना की पुलिस और बिजली विभाग के कर्मचारी मौके पर पहुंच गए। करीब 40 मिनट तक अफरातफरी मची रही। बाहर में रोड की तरफ लोगों की भारी भीड़ जुटी रही। इस बीच आग पर काबू पा लिया गया था।

फायर सर्विसेज ने बनाया है स्टैण्डर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर

इस साल के जनवरी महीने से लेकर मार्च महीने तक राजधानी समेत पूरे बिहार में अगलगी की छोटी-बड़ी 2500 से ऊपर घटनाएं हुई हैं। इनमें अलग-अलग जगहों पर कई जानें जा चुकी है, जिनमें मासूम बच्चे भी शामिल हैं। भास्कर ने बीते 2 अप्रैल को इस मुद्दे पर यह विशेष रिपोर्ट पब्लिश की थी। अब फायर सर्विसेज की DG शोभा अहोटकर के निर्देश पर एक स्टैण्डर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर (SOP) बनाया गया है। इसके आधार पर प्रिवेंशन को लेकर काफी तैयारियां की गई हैं। अगलगी की किसी भी घटना से निपटने के लिए फायर ब्रिगेड की कुल 702 गाड़ियों को पूरे राज्य के अंदर ऑन रोड रखा गया है। सभी जिलों की दो गाड़ियों पर ‘प्रोक्सिमिटी शूट’ को प्रतिनियुक्त किया गया है, ताकि सूचना मिलते ही क्विक रिस्पांस दिया जा सके।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here