मांगी रिपाेर्ट: भूमिहीनों काे आवास के लिए सर्वे कर 3 दिन में मांगी रिपाेर्ट

0
26


भागलपुर2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

प्रधानमंत्री आवास याेजना ग्रामीण के तहत स्थायी प्रतीक्षा सूची में 1992 पात्र लाभुकाें काे वास भूमि उपलब्ध नहीं रहने के कारण आवास का लाभ नहीं दिया जा सका है। इसकाे लेकर डीएम ने अादेश जारी किया है। इसमें कहा गया है कि वास स्थल विहीन लाभुकाें काे वास भूमि उपलब्ध कराते हुए आवास का लाभ दिया जाना है। इस संबंध में बार-बार निर्देश के बाद भी वास भूमि उपलब्ध नहीं कराया गया है। इसलिए सभी बीडीअाे व सीअाे काे निर्देश दिया गया है कि वास स्थल विहीन लाभुकाें का लाभुकवार भाैतिक सवर्े ग्रामीण आवास सहायक व राजस्व कर्मी के माध्यम से तीन दिनाें के अंदर कराएं।

इनमें लाभुकाें के वर्तमान निवास स्थल की विवरणी, निवास स्थल सरकारी है या रैयती, अगर रैयती भूमि है ताे वासगीत पर्चा दिया जा सकता है या नहीं। नहीं ताे क्याें कारण सहित रिपाेर्ट देनी है। साथ ही अगर सरकारी भूमि है ताे उसकी बंदाेबस्ती की जा सकती है या नहीं, नहीं ताे कारण समेत बताना है। डीडीसी व एडीएम के संयुक्त हस्ताक्षर युक्त रिपाेर्ट जमा करने काे कहा गया है। सर्वे के बाद सीओ विभागीय नियमानुसार वास भूमि उपलब्ध कराते हुए रिपाेर्ट काे सप्ताहभर के अंदर जमा करेंगे। सभी डीसीएलअार काे निर्देश दिया गया है कि इसकी निगरानी करते हुए लाभुकाें काे वास भूमि उपलब्ध कराएं और इसकी जानकारी दें।

खबरें और भी हैं…



Source link