मुजफ्फरपुर केमिकल ब्लास्ट कांड: नदी किनारे से मिला खून से सना कपड़ा और बिस्तर, दिलफेंक आशिक निकला सुभाष, कई महिलाओं और युवतियों से था सम्पर्क

0
26


  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Muzaffarpur
  • Muzaffarpur Chemical Blast Case; Blood stained Clothes And Bedding Found From The River Bank, Subhash Turned Out To Be A Heartthrob Lover

मुजफ्फरपुर41 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

आरोपित सुभाष की गिरफ्त में पुलिस।

मुजफ्फरपुर के बालूघाट में केमिकल ब्लास्ट और राकेश हत्याकांड में पुलिस को अहम सुराग हाथ लगे हैं। गिरफ्तार आरोपित सुभाष और मृतक राकेश की पत्नी से पूछताछ में महत्वपूर्ण जानकारी पुलिस को दी। इसी आधार पर पुलिस ने संगम घाट नदी किनारे से खून से सना कपड़ा और बिस्तर बरामद किया। यह हत्या के समय का है। जब इनलोगों ने मिलकर निर्मम तरीके से राकेश को टुकड़ो में काटा था। उसी समय बिस्तर और सुभाष के कपड़े पर खून लगा था। इसे मिट्टी में गारकर रख दिया था। जिसे पुलिस ने बरामद कर लिया। ये कपड़े और बिस्तर इस घटना में सहमे अहम साक्ष्य माना जा रहा है। पुलिस ने इसे जब्त कर लिया है। इसे सीलबंद कर FSL जांच में भेजने की कवायद की जा रही है।

इधर, पुलिस पूछताछ में सुभाष ने बताया की हत्या के बाद खून को साफ किया था। फिर बैग में खून से सने सभी कपड़ों और बिस्तर को रखा। इसके बाद एक बाइक से रात के अंधेरे में संगम घाट जाकर इसे हल्की मिट्टी खोदकर गार दिया था।

कांट्रैक्ट किलर की भी संलिप्तता

इस पूरी घटना में नामजद चार के अलावा दो कॉन्ट्रैक्ट किलरों की भी संलिप्तता सामने आ रही है। जिसको सुभाष ने रुपये देकर बुलाया था। इन सभी ने मिलकर पहले शराब पी और मुर्गा खाया। फिर नशे की हालत में राकेश की निर्मम हत्या कर दी थी। पुलिस सुभाष से उसके बारे में भी पूछताछ कर रही है। हालांकि, उसने इस सम्बन्ध में अबतक कोई ठोस जानकारी नहीं दी है।

ब्लास्ट से खुला मर्डर का राज

पांच दिन पूर्व कर दी थी हत्या

पुलिस पूछताछ में आरोपितों ने बताया की पांच दिन पूर्व उसकी हत्या कर दी गयी थी। जबकि पुलिस को इसकी जानकारी शनिवार देर रात लगी जब विस्फोट हुआ था। इतने दिन तक शव को बन्द कमरे में ही ड्रम में छुपाकर रखा गया था। आरोपित इस इंतज़ार में थे की शव गल जाएगा तब इसे ले जाकर नदी में फेंक देंगे। लेकिन, ब्लास्ट ने सब भंडाफोड़ फोड़ दिया।

मुजफ्फरपुर ब्लास्ट केस में प्रेमी संग पत्नी गिरफ्तार

कई महिला-युवतियों से करता बात

गिरफ्तार आरोपित सुभाष दिलफेंक आशिक निकला। उसके मोबाइल की जब पुलिस ने जांच की तो कई महिलाओं और युवतियों के नम्बर मिले। इसपर सैंकड़ो बार और घण्टों तक बातचीत करने का भी रिकॉर्ड मिला। इस सम्बंध में जब उससे पूछताछ हुई तो बताया की ये सब उसकी महिला मित्र हैं। जब उन नम्बरों पर पुलिस ने सम्पर्क साधा तो बताया गया की सुभाष उसका दोस्त है और घर पर भी अनजाना है। ये सभी मुजफ्फरपुर की ही रहने वाली हैं।

आज सुभाष को लेकर घटनास्थल पर जाएगी पुलिस

आज सुभाष और मृत राकेश की पत्नी को लेकर पुलिस उस मकान पर जाएगी। जहां इस घटना को अंजाम दिया गया था। सुभाष से सीन भी रिक्रिएट कराया जाएगा। इसकी वीडियो और फोटोग्राफी भी पुलिस कराएगी। फिलहाल दोनों से कई बिंदुओं पर पूछताछ कर पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही है।

खबरें और भी हैं…



Source link