मेहमान नवाजी में जुटे सरकारी कर्मियों की हुई कोविड जांच: गया में मंगोलिया डेलीगेट्स के स्वागत में जुटे सरकारी कर्मियों का हुआ चेकअप

0
9


गयाएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

मंगोलिया डेलीगेट्स।

गया में बीती दो दिसंबर को मंगोलिया के आए डेलीगेट्स के स्वागत में जुटे सरकारी महकमे के अधिकारियों का कोविड-19 की जांच की गई। यह जांच अधिकारियों व कर्मियों ने स्वास्थ्य विभाग के आदेश पर किया है। खास बात यह है कि इस जांच की आवश्यकता तब पड़ी जब मंगोलिया के 23 मेहमानों में से 1 की आरटीपीसीआर रिपोर्ट पॉजिटिव निकल गई। शिष्टमंडल में शामिल जिस शख्स की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव निकली है। वह मंगोलिया मेहमाानों का सिक्यूरिटी अफसर है। इस सुरक्षा कर्मी रिपोर्ट पॉजिटिव आते ही जिले से लेकर दिल्ली तक हडकंप मचा है। फिलहाल मंगोलिया का सुरक्षा अधिकारी को कोरेंटाइन किया गया है। कोरोना पीड़ित मंगोलिया शख्स के सैंपल बाहर जांच के लिए भेजे गए हैं। ताकि यह पता चल सके वह कहीं ओमिक्रोन से पीड़ित नहीं है।

मंगोलिया मेहमानों में से एक कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आते ही सरकारी महकमे में हड़कंप मचा है। इस हड़कंप को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने शनिवार को फरमान जारी किया था कि मेहमानों के मेहमानवाजी में जुटे सभी अधिकारी- कर्मचारी व होटल से जुड़े कर्मी अपना-अपना कोविड-19 की जांच करा लें। इस आदेश के तहत करीब पांच दर्जन लोगों ने कोविड-19 की जांच कराई। जांच कराने वालों में बीटीएमसी सचिव एन दोरजे से लेकर तमाम बड़े अधिकारी व बौद्ध भिक्षु शामिल हैं। उस पांच दर्जन में महाबोधि होटल के कर्मचारी भी शामिल हैं। सभी अपनी-अपनी जांच कराई है।

हालांकि उनकी जांच एंटीजन किट और आरटीपीसीआर से की गई है। एंटीजन टेस्ट में सभीी भले चंगे हैं लेकिन अभी आरटीपीसीआर की रिपोर्ट आनी बाकी है। आरटीपीसीआर की रिपोअर् आने के बाद ही स्थिति स्प्ष्ट हो सकेगी। इधर सिविल सर्जन केके राय ने बताया कि करीब पांच दर्जन लोगों की जांच की गई है। सभी ने अपनी सुविधा अनुसार निकटतम सेंटरों पर जांच कराई है। इन लोगों के आरटीपीसीआर की रिपोर्ट का इंतजार है। साथ ही उन्हें कहा गया है कि रिपोर्ट आने तक कोविड-19 से संबंधित गाइड लाइन का और भी सख्ती से पालन करें।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here