मोतिहारी में संदिग्ध स्थिति में पिता-पुत्र की मौत: सोशल मीडिया पर अफवाह- जहरीली शराब से हुई, गांव में लगाया गया मेडिकल कैंप

0
64
मोतिहारी में संदिग्ध स्थिति में पिता-पुत्र की मौत: सोशल मीडिया पर अफवाह- जहरीली शराब से हुई, गांव में लगाया गया मेडिकल कैंप


मोतिहारी43 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

मोतिहारी के मठ लोहियार गांव में संदिग्ध स्थिति में पिता-पुत्र की मौत हो गई है। साथ ही एक बुजुर्ग का निजी नर्सिंग होम में गंभीर स्थिति में इलाज चल रहा है। इस दौरान कुछ लोगों ने सोशल मीडिया पर यह शेयर किया है कि जहरीली शराब पीने से दोनों की मौत हुई है। मामला हरसिद्धि थाना क्षेत्र का है।

इसके बाद प्रशासन एक्टिव हो गई है। मोतिहारी एसपी कांतेश कुमार मिश्रा ने अरेराज एसडीपीओ रंजन कुमार को जांच के लिए गांव भेजा है। वहीं, डीएम ने मेडिकल टीम को जांच के लिए लगाया है। वहां, मेडिकल और पुलिस प्रशासन की टीम कैंप कर रही है।

अस्पताल में भर्ती हरि लाल सिंह।

मृतक नवल दास शराब मामले में जेल से आया था

नवल दास शराब की तस्करी करता था। उसे उत्पाद और हरसिद्धि पुलिस ने चुसाई शराब के साथ पकड़ कर जेल भेजा था। इसमें वह जमानत पर 10-15 रोज पहले जेल से छूट कर आया था। वहीं, उसका बेटा प्रमेंद्र दास घर पर ही रहता था। पिता-पुत्र की कुछ ही घंटों के अंदर मौत हो गई। साथ ही पड़ोसी हरि लाल सिंह की स्थिति नाजुक होने के कारण लोगों ने अस्पताल में भर्ती कराया है। हालांकि, हरि लाल के भाई हीरा लाल ने जहरीली शराब पीने से हुई मौत की बातों को खारिज कर दिया है।

मेडिकल और प्रशासन की टीम पहुंची गांव

जहरीली शराब से मौत की खबर सुनते ही डीएम ने मेडिकल टीम को गांव में कैंप करने के भेज दिया। इस दौरान वहां डायरिया के पांच मरीज मिले, जिसमे प्रमेंद्र की पत्नी भी शामिल है। सभी के एक ही सिस्टम के हैं दस्त। मेडिकल टीम गांव में कैंप कर रही है। वहीं, एक्साइज सुप्रिटेंडेट अमृतेष कुमार खुद से गांव में कैंप कर रहे हैं। सर्च अभियान चला रहे हैं।

क्या कहते हैं डीएम

वहीं, डीएम सौरभ जोरवाल ने बताया कि गांव में डायरिया का प्रकोप है। पिता-पुत्र की मौत हुई है। पांच लोगों की स्थिति नाजुक है। मेडिकल टीम भेज कर इलाज कराया जा रहा है।

खबरें और भी हैं…



Source link