मोबाइल में मिले सैकड़ाें अश्लील फोटो-वीडियो: व्हाट्सएप से फाेटाे निकाल उसे नग्न तस्वीराें के साथ जाेड़ छात्रा और महिलाओं काे करता था ब्लैकमेल, समस्तीपुर से गिरफ्तार

0
63
मोबाइल में मिले सैकड़ाें अश्लील फोटो-वीडियो: व्हाट्सएप से फाेटाे निकाल उसे नग्न तस्वीराें के साथ जाेड़ छात्रा और महिलाओं काे करता था ब्लैकमेल, समस्तीपुर से गिरफ्तार


मुजफ्फरपुरएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

पुलिस की गिरफ्त में मास्टरमाइंड मृत्युंजय।

सोशल मीडिया पर अश्लील फोटो-वीडियो डालकर छात्रा-महिलाओं काे ब्लैकमेल करनेवाले मास्टरमाइंड मृत्युंजय कुमार काे सदर थाने की पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उसे समस्तीपुर जिले के मुसरीघरारी थाना अंतर्गत कमलाबरबट्टा गांव स्थित उसके घर से पकड़ा गया। पुलिस उसके पिता मुकेश सिंह काे भी हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

पूछताछ में मृत्युंजय ने पुलिस काे बताया कि वह एक ऐप के जरिए लड़कियों के व्हाट्सएप नंबर जुटाता था। व्हाट्सएप से फोटो डाउनलोड कर नग्न लड़की-औरत के फोटो के साथ जाेड़कर संबंधित लड़की काे भेज रुपए की उगाही करता था।

मोबाइल की एफएसएल जांच कराएगी पुलिस एक दर्जन से अधिक संदिग्ध नंबर मिले

पुलिस जब्त मोबाइल की एफएसएल जांच समेत इसमें मिले पॉर्न वीडियो और फोटो की भी जांच कराएगी। इसके लिए केस की आईओ बहुत जल्द कोर्ट में अर्जी देगी। मृत्युंजय के मोबाइल से पुलिस को दो दर्जन से अधिक लड़कियों व एक दर्जन से अधिक संदिग्ध मोबाइल नंबर भी मिले हैं। ये नंबर जांच के लिए सविलांस सेल काे साैंप दिए गए हैं।

अब तक एक दर्जन छात्राओं को कर चुका है ब्लैकमेल

मृत्युंजय एक दर्जन से अधिक छात्राओं को ब्लैकमेल कर चुका है। कई लड़की-औरतों से उसके अवैध संबंध हैं। उसके जब्त मोबाइल में लड़की-औरतों के साथ अंतरंग तस्वीर और वीडियो भी पुलिस को मिले हैं। उन सबकी जांच की जा रही है। उसने कहा कि वे सभी तस्वीरें उसके रिश्तेदारों की है। बताया जाता है कि उसकी शादी करीब डेढ़ साल पहले हुई थी। इसका पिता ट्रक पर खलासी का काम करता है।

माेबाइल लाेकेशन से उसके घर पहुंची पुलिस

सदर थाना क्षेत्र के एक माेहल्ले की छात्रा ने उसके खिलाफ एफआईआर कराई थी। केस की आईओ संवेदना स्नेही ने वरीय पुलिस अधिकारी के निर्देश पर उसके मोबाइल नंबर का सीडीआर निकाला ताे लोकेशन मुसरीघरारी का मिला। आईओ ने मुसरीघरारी पुलिस की मदद से उसके घर छापेमारी की। पुलिस काे उसके पास से मिले मोबाइल में सैकड़ाें पॉर्न-एडिटेड पॉर्न वीडियो, अश्लील फोटो और कई हथियाराें की तस्वीर मिले हैं। पुलिस फिलहाल उसे थाने पर रखकर विशेष टीम पूछताछ कर रही है। पता चला है कि मृत्युंजय एक शातिर अपराधी और आर्म्स तस्कर चंदन कुमार का भाई है।

हत्या के मामले में जेल में बंद कुख्यात मनीष कुमार का करीबी है। मृत्युंजय भी आर्म्स तस्करी से जुड़ा हुआ है। इसके खिलाफ मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर, वैशाली, बेगूसराय, लखीसराय समेत झारखंड के कई जिलों में भी केस दर्ज हैं। इसकी गिरफ्तारी की सूचना उक्त थानों को भी दे दी गई है। सदर थाने के प्रभारी थानेदार मणिभूषण ने बताया कि उससे पूछताछ के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं…



Source link