रविचंद्रन अश्विन ने की पाकिस्तान की इस प्रतियोगिता की खिताबी, कहा- ‘सिर्फ को ‘कानूनी दूसरा’ पिचते थे’

0
11


समाचार संवाद: टीम इंडिया के बराबर-वर्षा रविचंद्रन अश्विन (रविचंद्रन अश्विन) को सकलैन मुश्ताक (सकलैन मुश्ताक) इकलौते गुणी जो अपने वैद्य के साथ ‘वैध दूसरा’ बॉल्स और वो एटी (आईसीसी) को कलाई मोड़ने की विविधता 15 डिग्री की सीमा तय करने के लिए

‘दूसरा’ पर बात

सूर्य चंद्र अश्विन ने दक्षिण अफ़्रीका के पूर्व अवर अफ़्रीका में प्रसन्नता के साथ बातचीत की, इस खतरनाक गेंद के बारे में बैटरी से बात की . सकलेन ने ‘दूसजनरा’ और सई की की और ‘रांगधर’ वायु प्रदूषण वायु प्रदूषण में मुय्या मुरली, हरिद अजमल शामिल हैं।

‘दूसरा’ को खत्म होना चाहिए-अश्विन

अश्विन ने अपने चैनल को ‘दबद ऑफ द दूसरा’ में अगोराम के साथ बैठक में कहा, ‘मेरी गणना से, दू (दूसरा को) खत्म करने के लिए बैटरों को ठीक करने के लिए मोड के साथ जिम्मेदारी से ब्लैंक करना चाहिए।’ बाहर जाने के लिए।’

’15 डिग्री तक की दर से’

अश्विन ने कहा, ‘इसमें किसी भी तरह का होना चाहिए। किसी एक को 15 डिग्री या 20-22 डिग्री प्राप्त करने के तरीके के साथ हर की I अगोराम बैटरी को 15 डिग्री तक मोडने की सीमा को बढ़ाए और साथ में ही गेंद को जिम्मेदार ठहराया जाए से दूसरी गेंद पिचनी।.. . . . . . . . . . . उधर करें तो गेंद को खिलाना चाहिए। ।

‘बाल्स को भी स्वतंत्रता’

अश्विन ने कहा, ‘बल्ले और गेंद में संतुलित संतुलन। गेंदबाजों को भी बल्लेबाजों की तरह आजादी की जरूरत है। वर्ग से बेहतर बेहतर हो सकता है। गेंदबाज गेंदबाज लब्बोलुवाब थक गया है।’

आईसीसी को

अगोराम ने कहा, ‘अनोपिक्स’ के ऐक्शन के लिए लेकिन . ️ गेंदबाज️ गेंदबाज️ गेंदबाज️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️

अश्विन ने सकल की खिताबी

रविचंद्रन अश्विन (रविचंद्रन अश्विन) ने भी कहा कि इस तरह के इष्ट के सकलेन मुश्ताक (सकलैन मुश्ताक) ही कलौते ने कहा था। उनके अनुसार वैध दूसरा फेंकने वाले एक अन्य स्पिनर शोएब मलिक हैं जिन्होंने अपनी बल्लेबाजी पर ज्यादा ध्यान लगाना शुरू कर दिया।

.



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here