लेजेंड एथलीट: एक संकेत में अरबपति से कंगाल हो गया ये दिग्गज, अकाउंट में बचे सिर्फ 12 हजार

0
23
लेजेंड एथलीट: एक संकेत में अरबपति से कंगाल हो गया ये दिग्गज, अकाउंट में बचे सिर्फ 12 हजार


लीजेंड एथलीट के साथ वित्तीय घोटाला: वित्तीय घोटाला किसी के साथ भी हो सकता है। कई बार आमजन शिकार हो जाते हैं तो कभी-कभी बड़े भ्रम पर भी चोर हाथ साफ कर देते हैं। ऐसा ही हुआ है एक लीजेंड एथलीट के साथ। सबसे ध्यान देने वाली बात यह है कि खाते के बैंक खाते से करोड़ों की राशि कम हो गई है। अब अकाउंट में 12 हजार डॉलर ही बचे हैं।

97 करोड़ रुपए गिरने

जालसाजी आज के इस मोबाइल-दौर में किसी के साथ भी हो सकती है। यह भी कह सकते हैं- सावधानी हटी, दुर्घटना घटी। किसी बड़े शख्सियत के साथ जब धोखाधड़ी होती है तो सभी हैरान देखते हैं। एक लीजेंड हाथी के साथ बहुत बड़ा घोटाला हुआ और उनके बैंक अकाउंट से 80 प्रतिशत की रकम कम हो गई। ये सब हुआ जमैका के महात्मा महापुरुष के साथ। स्कैम करने वालों ने अपना अकाउंट से 12 मिलियन डॉलर (करीब 97 करोड़ रुपए) उड़ा दिए हैं।

बोल्ट के स्टेटमेंट्स की पुष्टि

36 साल के शिपमैन बोल्ट ने किंग्स्टन की निवेश फर्म के शेयर और अनुबंध लिमिटेड के साथ अपने लाभ में लाखों डॉलर खो दिए। ट्रैक एंड फील्ड स्टार के चाहने वालों का कहना है कि जामकान इनवेस्टमेंट फर्म की कमाई से 12 मिलियन डॉलर कम हो गए हैं। यदि आवश्यक हो तो वे मामले को न्यायालय में ले जाने के लिए तैयार हैं। फायदे में अब सिर्फ 12 हजार डॉलर (करीब 9 लाख रुपये) ही बचे हैं।

कोर्ट जाने की तैयारी

बोल्ट के वकील ने इस मामले के बारे में पूरी जानकारी दी है। लिटन पी गॉर्डन ने फॉर्च्यून मैग्जीन से कहा, ‘बोल्ट के कलंक और जीवन भर की बचत का हिस्सा इस खाते में था। यह किसी के लिए भी दुखद खबर है। निश्चित रूप से बोल्ट के मामले में भी, ऐसा ही हैं। उन्होंने अपने पेंशन के हिस्से के रूप में इस खाते को खोला था। अगर कंपनी फंड वापस नहीं करता है तो हम इस मामले को लेकर कोर्ट जाएंगे। उम्मीद है कि इस मामले को इस तरह से सुलझाया जाएगा कि बोल्ट अपनी राशि फिर से हासिल कर लेंगे।’

पूर्व कर्मचारियों पर संशय

दिग्गज एथ उसेन बोल्ट ने 8 ओलंपिक स्वर्ण पदक जीते हैं। किंग्स्टन के स्टॉक्स एंड लिमिटेज लिमिटेड (एसएसएल) ने 12 जनवरी को कहा था कि उसके एक पूर्व कर्मचारी ने धोखाधड़ी के बारे में पता लगाया था। एसएसएल ने इस मामले को कानून प्रवर्तन के पास भेज दिया। इस फर्जीवाड़े की जांच जारी है। यह दावा किया जा रहा है कि उसी कर्मचारी ने बोल्ट के दांव से पैसे निकाल लिए हैं।

लेखों की पहली पसंद Zeenews.com/hindi– अब किसी और की जरूरत नहीं है

.



Source link