सरैया से खबर: करंट से झुलसे मजदूर की माैत पर बवाल, एनएच पर की आगजनी; साढ़े तीन घंटे जाम, अस्पताल व घर में तोड़फोड़

0
48


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुजफ्फरपुर19 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • पुलिस ने हल्का बल प्रयाेग कर उपद्रवियाें काे खदेड़ा, दमकल वाहन से एनएच पर जल रहे टायर को बुझाया गया

सरैया बाजार के मोती चौक के निकट गृह निर्माण के क्रम में हाईटेंशन तार की चपेट में आने से झुलसे मजदूर रमेश कुमार की गुरुवार काे माैत हाे गई। वह वैशाली जिले के खरगोलिया गांव का रहने वाला था। पटना के एक निजी हॉस्पिटल में उसका इलाज चल रहा था। इधर, अस्पताल से उसका शव घर पर अाने पर परिजन समेत ग्रामीण उग्र हाे गए। माेतीचाैक के निकट एनएच 722 पर अाकर हंगामा करने लगे। टायर जला कर अागजनी कर 3.30 घंटे जाम कर दिया। जिस मकान के निर्माण के क्रम में दुर्घटना हुई थी, उसमें संचालित एक निजी हॉस्पिटल व अगल-बगल के मकान में तोड़फोड़ की।

सूचना पर पहुंची पुलिस के समझाने पर भी उग्र भीड़ नहीं मानी। उधर, मकान मालिक भी भय से फरार हो गए। थानाध्यक्ष रविन्द्र यादव ने तत्काल सीओ पंकज कुमार को मौके पर बुलाया। हल्का बल प्रयोग पर उपद्रव कर रहे लोग भाग खड़े हुए तथा थाना में तैनात दमकल से एनएच पर जल रहे टायर को बुझाया गया। शव को पोस्टमार्टम के लिए एसकेएमसीएच भेजा गया है।

जानकारी के अनुसार, मोती चौक पर गोपिनाथपुर डोकड़ा निवासी कामेश्वर साह का पूर्व से मकान है, जिस पर एनएच किनारे अरोपुर सब स्टेशन को जाने वाली हाईटेंशन लाइन के नीचे दो तल्ला मकान बनाने के क्रम में 23 मार्च को हाईटेंशन तार की चपेट में आकर मजदूर झुलस गया था। स्थानीय अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया। स्थिति गंभीर देख चिकित्सक ने पटना रेफर कर दिया, जहां निजी अस्पताल में इलाज के दाैरान माैत हाे गई।

खबरें और भी हैं…



Source link