‘सर्व शिक्षा अभियान’ का बन रहा मजाक: बेतिया के स्कूल में पठन-पाठन का कार्य भगवान भरोसे, अध्यापक आए दिन स्कूल से नदारद रहते हैं

0
39
‘सर्व शिक्षा अभियान’ का बन रहा मजाक: बेतिया के स्कूल में पठन-पाठन का कार्य भगवान भरोसे, अध्यापक आए दिन स्कूल से नदारद रहते हैं


बेतिया26 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

जिले चनपटिया प्रखंड अंतर्गत खर्ग पोखरिया पंचायत के प्राथमिक विद्यालय की फोटो।

शिक्षकों की लापरवाही के कारण ‘सर्व शिक्षा अभियान’ का मजाक बन कर रहा है। जिले चनपटिया प्रखंड अंतर्गत खर्ग पोखरिया पंचायत के प्राथमिक विद्यालय लंगट शुक्ल के टोला में विद्यालय प्रधान की मनमानी के कारण विद्यालय का पठन-पाठन भगवान भरोसे चल रहा है। कक्षा एक से पांच तक चलने वाले इस विद्यालय में तीन शिक्षक हैं और करीब 250 छात्र नामांकित है।

छात्रों की माने तो प्राइमरी स्कूल में तैनात अध्यापक आए दिन स्कूल से नदारद रहते हैं। समय से कभी-कभी विद्यालय में पठन-पाठन का कार्य होता है। इस क्षेत्र के अभिभावक बच्चों के भविष्य को देखते हुए उन्हें सरकारी स्कूल के बजाय निजी स्कूलों में पढ़ाने को मजबूर हैं। विद्यालय के हालात यह है कि यह कभी भी समय से नही खुलता है। विद्यालय में बच्चों का मध्याह्न भोजन मेनू के अनुसार नही बनता है। मध्याह्न भोजन में बच्चों को किस दिन क्या खाने में मिलता है यह उन्हें पता नहीं है।

शनिवार को देर से विद्यालय खोलने पर सहायक शिक्षिका निर्मला देवी ने बताया कि विद्यालय की प्रधान शिक्षिका ने अपने छुट्टी की जानकारी फोन पर दी है। और मुझे मौखिक रूप से पठन-पाठन का प्रभार दिया है। विद्यालय के पोषक क्षेत्र में बच्चो को उनके घर बुलाने चली गई थी। जिससे विद्यालय खोलने में देरी हुई है। उन्होंने ने बताया की दो शिक्षक अनुपस्थित है।

वहीं प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी नंदकिशोर सिंह ने बताया कि स्कूल की औचक जांच होगी। गैर हाजिर मिले शिक्षकों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। समय और साफ-सफाई पर ध्यान दिया जाएगा। विद्यालय की प्रधान शिक्षक ने वॉट्सऐप के माध्यम से छुट्टी पर जाने की सूचना दी है।



Source link