सहरसा रिफ्यूजी कॉलोनी कांड में 25 हिरासत में: छापेमारी में 3 पिस्टल भी मिले; लोगों ने कहा- वारदात के बाद से इलाके में दहशत

0
5


सहरसा7 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

वारदात के बाद मोहल्ले के बाहर पसरा सन्नाटा।

सहरसा में रविवार की शाम जमीन विवाद में युवक की हत्या और आगजनी के बाद पूरे इलाके में सन्नाटा पसरा हुआ है। मोहल्ले के लोग भयभीत हैं। करीब आधा दर्जन परिवार अपने घरों में ताला बंद कर अपने गांव या रिश्तेदार के घर चले गए है। पुलिस 25 संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। इस घटना में दो अन्य के भी गोली लगने की सूचना मिल रही है। गोलीकांड के आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद उसके घर और मोहल्ले की सुरक्षा के लिए 10 पुलिस के जवान और पदाधिकारियों को तैनात किया गया है।

सोमवार को मोहल्ले के लोगों ने बताया कि छोटू यादव की हत्या भवेश पासवान के घर से करीब डेढ़ सौ मीटर दूर हुई थी। छोटू के अलावा दो और युवक भी गोली से जख्मी हुए थे। उनके लोग दोनों को वहां से लेकर इलाज के लिए भागे। जख्मी दोनों युवकों के भी बटराहा मोहल्ले के ही होने की बातें भी सामने आई है।

इसके बाद भीड़ छोटू यादव के शव को वहां से लेकर विवादित भूमि पर आई और तोड़फोड़ और आगजनी की वारदात को अंजाम दिया गया। रात में छोटू के शव का पोस्टमार्टम के बाद पुलिस ने परिजनों को सौंप दिया। इसके बाद पुलिस ने उछाही नगर और बटराहा मोहल्ले में छापेमारी कर 25 लोगों को हिरासत में लिया है। इस दौरान 3 पिस्टल भी बरामद हुए। किंतु, पुलिस अभी मामले का खुलासा नहीं कर रही है। दो अन्य लोगों को गोली लगने की भी पुलिस ने अभी पुष्टि नहीं की है।

स्थानीय लोगों ने बताया कि भवेश पासवान अपने घर के बगल की खाली जमीन पर रविवार को बाउंड्री दे रहा था। इसी बीच बाउंड्रीवाल का विरोध कर रहे इसी मुहल्ले के बनारसी पासवान काफी संख्या में बाहरी हसेरी को लाकर बाउंड़ीवाल को तोड़वा दिया। इसके बाद हिंसक वारदात शुरू हो गयी। कुछ लोगों ने यह भी बताया कि हसेरी दोनों तरफ से मंगायी गयी थी। बाउंड्री बाल तोड़ने के बाद दोनों पक्षों के बीच तानातानी के बाद गोलीबारी शुरू हुई। इसमें छोटू यादव की मौत हो गई।

गुस्साए लोगों ने गाड़ियों में लगाई आग

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here