सावधान मरा नहीं, जिंदा है कोरोना: संक्रमण के आंकड़ों के धोखे से रहें अलर्ट, केरल से सबक लेकर बरतें सावधानी

0
25


  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Bihar News; Be Alert From The Deception Of Infection Figures, Be Careful By Taking Lessons From Kerala

पटना41 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

बिहार में अब तक कुल 724835 लोग संक्रमित हुए हैं।

अगर आप कोरोना के आंकड़ों को लेकर वायरस को मरा समझ रहे हैं तो आप बहुत बड़े खतरे को बुलावा दे रहे हैं। बिहार के लोगों को केरल से सबक लेकर कोरोना के प्रोटोकॉल का पालन करना चाहिए। इस मामले में थोड़ी सी भी लापरवाही भारी पड़ सकती है। कोरोना एक मामला हजारों लोगों को संक्रमित कर पूरे बिहार में तबाही मचा सकता है। पूर्व में भी कोरोना का यही धोखा संक्रमण का खतरा बढ़ाया था, इस बार भी ऐसी ही मनमानी देखने को मिल रही है। बिहार में नए संक्रमण का मामला हर दिन घट बढ़ रहा है जो बड़ा खतरा है।

24 घंटे में 1.61 लाख लोगों की जांच

24 घंटे में बिहार में 161065 लोगों की कोरोना जांच की गई है। जांच में मात्र 44 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। 30 जुलाई को जांच कम होने के बाद भी मामले बढ़ गए थे। 30 जुलाई को सरकार ने 24 घंटे में 152169 लोगों की जांच कराई थी जिसमें 72 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई थी। एक्सपर्ट इसे वायरस का धोखा बता रहे हैं। एक्सपर्ट का कहना है कि अगर ऐसे समय में कोरोना को लेकर थोड़ी सी भी लापरवाही की जाती है तो अचानक से संख्या में विस्फोट होगा और फिर कोरोना को काबू में लाने के लिए लॉकडाउन जैसी सख्ती बरतनी पड़ेगी।

मौत का आंकड़ा स्थिर लेकिन खतरा बढ़ा

24 घंटे में बिहार में कोरोना से एक भी मौत नहीं हुई है। अब तक बिहार में कुल 9643 लोगों की मौत हुई है। पटना में तो 21 जुलाई से एक भी मौत नहीं हुई है। यह बड़ी राहत की बात है लेकिन इससे खतरा कम नहीं हुआ है। बिहार में संक्रमण के 456 एक्टिव मामले हैं, इसके अलावा कई ऐसे हैं जो अभी जांच में डिटेक्ट नहीं हो पाए हैं। ऐसे में इन संक्रमितों से संक्रमण के फैलने का बड़ा खतरा है। संक्रमण की R वैल्यू अगर बढ़ा तो इतने संक्रमितसें से ही बिहार में तबाही मच सकती है। ऐसे में एक्सपर्ट का कहना है कि पूरी तरह से सावधानी बरती जाए।

24 घंटे में 45 संक्रमितों की रिकवरी

बिहार में 24 घंटे में 45 मरीजों की रिकवरी हुई है। बिहार में अब तक कुल 724835 लोग संक्रमित हुए हैं। इसमें 714735 लोग कोरोना को मात दे दिए। कुल संक्रमितों में अब तक 9643 लोगों की मौत हो गई है। बिहार में एक्टिव मामलों की संख्या 456 है और रिकवरी रेट 98.61% है। पटना में अब तक कुल 146775 संक्रमित हुए हैं जिसमें 144379 लोग ठीक हुए हैं और 2330 की मौत हो चुकी है।

केरल के सबक से ही होगा बचाव

केरल में जिस तरह से मामले बढ़ रहे हैं वह चौंकाने वाले हैं। नार्थ इस्ट में भी कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं। देश के कई राज्यों में कोरोना के संक्रमण घट बढ़ रहे हैं। वायरस का घटना बढ़ना वायरस का धोखा कहा जाता है। इससे संक्रमण की रफ्तार बढ़ सकती है। जब तक केरल से सबक लेकर काम नहीं किया जाएगा संक्रमण का खतरा रहेगा। पटना हाईकोर्ट ने भी कोरोना के खतरे और वायरस के प्रकोप को लेकर सोशल डिस्टेंस और मास्क को लेकर सख्ती बरतने का आदेश सरकार को दिया है लेकिन इस पर अभी कोई काम नहीं हो सका है।

एक्टिव मामलों के टॉप 5 जिले

  • पटना – 66
  • दरभंगा – 31
  • बेगूसराय – 30
  • सीतामढ़ी – 29
  • पूर्वी चंपारण – 26

रिकवरी के टॉप 5 जिले

पटना – 1,44,379

24 घंटे में 9 की रिकवरी

गया – 33,631

24 घंटे में कोई रिकवरी नहीं

मुजफ्फरपुर – 30,714

24 घंटे में कोई रिकवरी नहीं

बेगूसराय – 26,678

24 घंटे में कोई रिकवरी नहीं

भागलपुर – 25,494

24 घंटे में 6 रिकवरी

संक्रमण के टॉप 5 जिले

पटना – 1,46,775

24 घंटे में 5 नए संक्रमित

गया – 33,912

24 घंटे में 2 नए संक्रमित

मुजफ्फरपुर – 31,354

24 घंटे में एक संक्रमित

बेगूसराय – 27,165

24 घंटे में एक संक्रमित

भागलपुर – 25,811

24 घंटे में 2 नए संक्रमित

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here