सीवान में संदिग्ध परिस्थिति में 1 की मौत: 5 लोगों की आंखों की रोशनी गई,12 बीमार; सदर अस्पताल के गेट पर लगाया ताला

0
48
सीवान में संदिग्ध परिस्थिति में 1 की मौत: 5 लोगों की आंखों की रोशनी गई,12 बीमार; सदर अस्पताल के गेट पर लगाया ताला


सीवान27 मिनट पहले

सीवान में संदिग्ध परिस्थिति में एक व्यक्ति की मौत हो गई है, जबकि 5 लोगों की आंख की रौशनी चली गई है। गांव में करीब 12 लोगों की अचानक तबीयत बिगड़ने के बाद दहशत का माहौल बन गया है।

घटना रविवार की शाम करीब 7:00 बजे की है। हालांकि स्थानीय प्रशासन और पीड़ित के परिजन कुछ भी कहने से बच रहे हैं। अस्पताल आए एक बीमार ने कहा है कि शराब पी रखी थी। इसके बाद सेहत बिगड़ी है।

पांच लोगों की आंख की रोशनी चली जाने के बाद उन्हें आनन-फानन में सीवान सदर अस्पताल लाया गया है। यहां प्रशासन की कड़ी निगरानी में उनका इलाज चल रहा है। जिला प्रशासन ने मीडिया के अस्पताल परिसर में घुसने पर रोक लगा दी है। पीड़ित के परिजनों से बात करने पर भी पाबंदी लगा दी गई है।

पत्रकारों को रोकने के लिए अस्पताल के गेट पर ताला।

घटना जिले के लकरी नवीगंज थाना क्षेत्र के बाला गांव की है। बताया जा रहा है कि कई पीड़ितों को आनन फानन में शहर के अलग-अलग जगहों पर भी इलाज के लिए ले जाया गया है। सीवान सदर अस्पताल में पीजीआरओ चंदन कुमार के नेतृत्व में पांच लोगों का इलाज चल रहा है। उन्होंने कहा है कि एक व्यक्ति को मृत अवस्था में लाया गया था। बाकी 5 लोगों का इलाज चल रहा है।उन्होंने घटना का कोई भी कारण बताने से फिलहाल मना कर दिया है।

उधर लकरी नबीगंज में शराब पीने की खबर के बाद जिला प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद हो गया है। शहर से लेकर गांव तक एंबुलेंस की कतार लग गई है। सभी पीड़ितों को आनन-फानन में एक-एक कर गांव से अस्पताल लेकर आया गया है।

महाराजगंज एसडीपीओ पोलस्त कुमार, एसडीओ संजय कुमार गांव में पहुंचकर मामले की जांच कर रहे हैं। पूरा गांव पुलिस छावनी में तब्दील हो गया है। दो लोगों को हिरासत में पुलिस लेकर पूछताछ कर रही है।

एंबुलेंस से लाया गया अस्पताल।

एंबुलेंस से लाया गया अस्पताल।

एक हफ्ते पहले भी हुई थी संदिग्ध मौत

मृतक की पहचान नबीगंज थाना क्षेत्र के भोपतपुर पंचायत के बाला गांव निवासी करीब 40 वर्षीय जनक बिन के रूप में हुई है। जबकि पीड़ितों में बाला गांव निवासी 29 वर्षीय धीरेंद्र मांझी, 31 वर्षीय सुरेंद्र प्रसाद, 32 वर्षीय राजू मांझी, 40 वर्षीय दुलम रावत और 42 वर्षीय लक्ष्मण रावत सीवान सदर अस्पताल इलाज कराने पहुंचे हैं।

ग्रामीणों के अनुसार करीब 1 सप्ताह पहले एक व्यक्ति नरेश बिन की मौत शराब पीने से हुई थी। लेकिन परिजनों ने उसका दाह संस्कार कर दिया। उनके हिसाब से यह दूसरी मौत है। लेकिन, प्रशासन शराब से मौत होने की पुष्टि अभी नहीं कर रही है।

आगे देखें कुछ तस्वीरें…

पीड़ितों को अस्पताल ले जा रहे लोग।

पीड़ितों को अस्पताल ले जा रहे लोग।

अस्पताल में पड़ा शव।

अस्पताल में पड़ा शव।

खबरें और भी हैं…



Source link