1 जनवरी से बदल जाएगा बड़ा नियम! 10 हजार से ज्यादा रकम जमा करने पर इतना चार्ज लेगा बैंक

0
18


नई दिल्ली: साल का आखिरी महिना चल रहा है. कुछ दिनों बाद नया साल 2022 शुरू हो जाएगा. इसी के साथ का बड़े नियम भी बदल जाएंगे. इसी क्रम में इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक (India Post Payments Bank -IPPB) के ग्राहकों को भी झटका लगने वाला है. इस बैंक के अकाउंट होल्डर्स को एक लिमिट से कैश निकालने और डिपॉजिट करने पर चार्ज देना होगा. आपको बता दें कि यह नियम 1 जनवरी से लागू हो जाएगा.

बैंक ने दी जानकारी

गौरतलब है कि IPPB में तीन तरह के सेविंग अकाउंट्स खोले जाते हैं. इस बैंक में कई तरह की अन्य सुविधाएं मुहैया कराई जाती हैं. इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक की तरफ से दी गई जानकारी के मुताबिक बेसिक सेविंग्स अकाउंट से हर महीने चार बार कैश निकालना फ्री है. लेकिन इसके बाद हर निकासी पर ग्राहकों को कम से कम 25 रुपये रुपये देने होंगे. आपको बता दें कि बेसिंग सेविंग्स अकाउंट पर पैसे जमा करने पर कोई चार्ज नहीं लगेगा.

ये भी पढ़ें- रसोई गैस की सब्सिडी को लेकर सरकार ने बनाया नया प्लान? जानिए अब किसे मिलेंगे पैसे

कितने देने होंगे चार्ज?

इस बैंक में सेविंग और करंट अकाउंट में महीने में 10,000 रुपये जमा करने पर कोई चार्ज नहीं लगेगा. बैंक ने बताया कि इस लिमिट से ज्यादा डिपॉजिट करने पर ग्राहकों को एक्स्ट्रा चार्ज लगेगा. बेसिक सेविंग अकाउंट के अलावा दूसरे सेविंग अकाउंट और करंट अकाउंट से हर महीने 25,000 रुपये निकालने पर कोई चार्ज नहीं लगेगा. वहीं, फ्री लिमिट के बाद हर बार पैसे निकालने पर कम से कम 25 रुपये चार्ज देना होगा.

IPPB की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के मुताबिक ये सभी नियम 1 जनवरी 2022 से लागू हो जाएंगे. यानी 1 जनवरी से ग्राहकों को ज्यादा चार्ज देना पड़ेगा. इसे GST/CESS अलग से लगाया जाएगा. इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक ने इससे पहले 1 अगस्त 2021 को डोरस्टेप बैंकिंग चार्ज (Doorstep banking charges) की नई दरें लागू की थी.

बिजनेस से जुड़ी अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

LIVE TV





Source link