BOI के क्लर्क को पीठ में मारी गोली: लखीसराय में ड्यूटी कर बाइक से घर लौट रहा था बैंककर्मी, पहली पत्नी पर हत्या का आरोप

0
19


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लखीसरायएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

लखीसराय-मुंगेर हाइवे पर लगी लोगों की भीड़।

  • घटना सूर्यगढ़ा थाना क्षेत्र के नंदपुर ढाल के पास बुधवार देर रात हुई
  • हत्या के विरोध में NH 80 जाम, पहली पत्नी पुलिस की हिरासत में

लखीसराय में अपराधियों ने एक बैंककर्मी की गोली मार कर हत्या कर दी। घटना सूर्यगढ़ा थाना क्षेत्र के नंदपुर ढाल के पास की है। बुधवार देर रात ​​​​​​वह बैंक ऑफ इंडिया की सूर्यगढ़ा शाखा से ड्यूटी कर घर लौट रहा था​, तभी पूर्व से घात लगाए बाइक सवार अपराधी उस पर ताबड़तोड़ फायरिंग करने लगे। बैंककर्मी के पीठ में 1 गोली लगी, वह घायल होकर गढ्‌ढे में गिर गया। इसी दौरान पीछे से आ रहे ग्रामीणों की नजर घायल पर पड़ी। ग्रामीण आननफानन में अस्पताल ले जाने लगे, लेकिन उसने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। इधर, घटना से आक्रोशित होकर ग्रामीणों ने भिड़हा गांव के पास NH-80 को जाम कर दिया। इस कारण लखीसराय-मुंगेर रोड पर पिछले 1 घंटे आवागमन पूरी तरह ठप है। गुस्साए मामले में शामिल सभी अपराधियों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। मृतक के घर वाले उसकी पहली पत्नी पर हत्या का आरोप लगा रहे हैं।

पहली पत्नी को पुलिस ने हिरासत में लिया

इधर, घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और लोगों को समझाने-बुझाने की कोशिश में जुट गई। पुलिस ने लोगों मामले में शामिल सभी अपराधियों की गिरफ्तारी का आश्वासन भी दिया। पुलिस के अनुसार बैंककर्मी ड्यूटी कर घर लौट रहा था, तभी अपराधियों ने घटना को अंजाम दिया। आपसी विवाद की बात सामने आ रही है। घरवालों के बयान के आधार पर मृतक की पहली पत्नी नूतन मेहता को हिरासत में लिया गया है। उससे पूछताछ की जा रही है। मृतक की पहचान मेदनीचौकी थाना क्षेत्र स्थित भिड़हा गांव निवासी ऋषिदेव कुमार (30) के रूप में हुई है। वह BOI के सूर्यगढ़ा शाखा में क्लर्क था।

ऋषिदेव कुमार। (फाइल फोटो)

ऋषिदेव कुमार। (फाइल फोटो)

पहली पत्नी से तलाक को लेकर विवाद चल रहा था

परिजनों के अनुसार उसकी पहली पत्नी से तलाक को लेकर विवाद चल रहा था। पहली पत्नी सूर्यगढ़ा CHC में अकाउंटेंट है। परिजनों ने मृतक की पहली पत्नी पर हत्या का आरोप लगाया है। पहली पत्नी बार-बार हत्या की धमकी देती थी। मेदनीचौकी थानाध्यक्ष रुबीकांत कच्छप ने बताया कि मृत बैंककर्मी की पहली पत्नी के मोबाइल को खंगाला गया। ऋषिदेव की मौत के बाद नूतन ने आखिरी कॉल अपने ही विभाग एक अधिकारी को किया था। मामला संदिग्ध लग रहा है। वैज्ञानिक अनुसंधान की जा रही है।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here