MLA पर लात-घूंसे, उन्हें घसीटना-फेंकना…लीजिए सब देख लीजिए: विधानसभा में ऐसा पहली बार, रोक के बाद भी सब देख रही पब्लिक

0
47


  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bihar Vidhan Sabha Case Update In Video; Tejashwi Yadav, Tej Pratap Yadav, MLAs Were Thrashed At Assembly, Tej Pratap Seen Shooting Videos From Mobile

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पटना2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

मंगलवार को विधानसभा में सदन से एक महिला विधायक को बाहर निकालतीं महिला सुरक्षाकर्मी।

  • अंदर फोटो खींचने और वीडियो बनाने पर थी रोक
  • बाहर आ चुके फोटो-वीडियो को देखकर शर्म करें हम

बिहार विधानमंडल सत्र के दौरान वीडियो-फोटो करना मना है, इसलिए भास्कर ने मंगलवार को सदन के अंदर लात-घूंसों का कोई वीडियो-फोटो नहीं लिया। नियम सभी के लिए था, लेकिन पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव भी वीडियो शूट करते दिखे। उनपर हाथ नहीं चला, हां पत्रकारों के मोबाइल पर पुलिसकर्मियों ने हाथ खूब चलाए। अब हम पब्लिक डोमेन में अलग-अलग जगह चल रहे वीडियो-फोटो का पूरा बुलेटिन एक साथ ला रहे हैं, ताकि हरेक की करतूत सामने आए। सदन की गरिमा चकनाचूर करने वाले विधायकों की भी करतूत देखिए और पुलिस-मार्शल का माननीयों पर चल रहे लात-घूंसे भी।

मंगलवार को एक विधायक को सदन से बाहर करते सुरक्षाकर्मी।

मंगलवार को एक विधायक को सदन से बाहर करते सुरक्षाकर्मी।

विधेयक पास कराने के पहले सदन का सिस्टम फेल

मंगलवार की रात 9 बजे पुलिस का सहारा लेकर सरकार ने विधानसभा में पुलिस संशोधन विधेयक पास कराया। पुलिस की सहायता इसलिए, क्योंकि इतिहास में पहली बार ऐसी नौबत आ गई कि विपक्ष ने तांडव कर 5 घंटे से ज्यादा समय तक विधानसभा पर कब्जा जमाए रखा। विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा को बंधक बनाए रखा। आसन पर भी तोड़फोड़ की। आसन को घेरे रखा ताकि कार्यवाही चलाने के लिए कोई यहां बैठ नहीं सकें। डॉ. प्रेम कुमार बैठे भी तो 2 मिनट में उठना पड़ा, क्योंकि उनके हाथ के नीचे से सारे दस्तावेज छीनकर विपक्षी विधायक ले गए। वह बचाने की नाकाम कोशिश करते दिखे। बार-बार बोलते सुने गए- “आप गलत काम कर रहे हैं। आप गलत कर रहे हैं।”

इस महिला विधायक को कुछ इस तरह निकाला गया।

इस महिला विधायक को कुछ इस तरह निकाला गया।

खादी को संभालने उतरी खाकी ने कुछ बाकी नहीं छोड़ा

पब्लिक डोमेन में जो तस्वीरें-वीडियोज हैं, वह इसलिए भी देखनी चाहिए ताकि कुछ एकतरफा न लगे और हरेक की करतूत सामने आए। जनता से चुने हुए प्रतिनिधियों ने खादी पहनकर विधानसभा में सदन की मर्यादा तोड़ी तो खाकी ने भी इसमें इतिहास रच दिया। एक वीडियो यह दिखा रहा है कि सुरक्षाकर्मी एक MLA को निकालते समय लगातार 6 घूंसे पीठ पर देता गया और गेट के पास छोड़ने के बाद नया शिकार ढूंढ़ने अंदर आ गया। कुछ मीडियाकर्मी इसका वीडियो बना रहे थे तो दूसरे पुलिसकर्मियों ने उनकी ओर भी हाथ चलाया। पब्लिक डोमेन में एक ऐसा भी वीडियो है, जिसमें नियमों को तोड़ते हुए विधायक तेज प्रताप यादव अपने ही पक्ष के विधायक को टांग-उछाल कर बाहर किए जाने की घटना को मोबाइल से शूट कर रहे हैं। इसी तरह एक वीडियो और भी शर्मनाक है, जिसमें यह दिख रहा है कि एक विधायक को टांगकर दो वर्दीधारी बाहर कर रहे थे, तीसरे ने मौका देखते ही एक लात दे मारा। ऐसी कई तस्वीरें और वीडियोज़ वायरल हैं, जिनमें महिला विधायक को टांगते-खींचते घसीटते हुए निकाला गया। विधेयक के खिलाफ सदन की मर्यादा तोड़ने में लगीं विधायक को महिला सुरक्षाकर्मियों ने एक तरह से कुचलते-धकेलते बाहर निकला। बाहर निकलने पर दो सांस ले सकीं तो एक ही लाइन कहा- “एक बुजुर्ग महिला के साथ क्या हो रहा है, देखिए।” इसलिए, आज सब देख लीजिए।

बिहार विधानमंडल की नियमावली यह कहती है:

बिहार विधानमंडल के कार्य संचालन की नियमावली।

बिहार विधानमंडल के कार्य संचालन की नियमावली।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here