Stock Market Update: तूफानी तेजी से नए र‍िकॉर्ड पर बाजार, शेयर खरीदें या नहीं; जान‍िए एक्‍सपर्ट ट‍िप्‍स

0
15
Stock Market Update: तूफानी तेजी से नए र‍िकॉर्ड पर बाजार, शेयर खरीदें या नहीं; जान‍िए एक्‍सपर्ट ट‍िप्‍स


Share Market Tips: व‍िधानसभा चुनाव के नतीजों में बीजेपी को म‍िली जीत के बाद शेयर बाजार र‍िकॉर्ड लेवल पर पहुंच गया है. बुधवार के कारोबारी सत्र में सेंसेक्‍स 69,653 अंक पर और न‍िफ्टी 20,938 अंक पर बुद हुआ. स्‍टॉक मार्केट में प‍िछले सात कारोबारी सत्र से तेजी देखने को म‍िल रही है. तीन ट्रेड‍िंग सेशन में सेंसेक्‍स 1800 अंक से ज्‍यादा चढ़ गया. इतना ही नहीं बाजार की चाल देखकर सेंसेक्‍स के 70000 अंक पर और न‍िफ्टी के 21000 अंक पर पहुंचने की उम्‍मीद की जा रही है. बाजार में आ रही तेजी के बीच एफआईआई के साथ घरेलू न‍िवेशक भी पैसा लगा रहे हैं. लेक‍िन आगे क्‍या-आपको न‍िवेश के बारे में प्‍लान करना चाह‍िए या नहीं, आइए जानते हैं.

मुनाफावसूली पर फोकस कर सकते हैं न‍िवेशक

बाजार में तेजी के माहौल के बीच हाल-फिलहाल में करेक्शन की संभावना है. तेजी के दौरान डीआईआई मुनाफावसूली पर फोकस कर सकते हैं. जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के चीफ इनवेस्‍टमेंट स्‍ट्रेटज‍िक वीके विजयकुमार कहते हैं एफआईआई इस बीच खरीदार के रूप में उभरे हैं. उन्होंने कहा, अमेरिकी बॉन्ड यील्ड में लगातार गिरावट से एफआईआई की खरीदारी तय होगी. प्रभुदास लीलाधर की टेक्निकल रिसर्च की वीपी वैशाली पारेख ने कहा आईसीआईसीआई बैंक, एमएंडएम, एचडीएफसी बैंक और आरआईएल जैसे शेयरों की तरफ से मजबूत प्रवृत्ति बनाने से निफ्टी 20,850 क्षेत्र को पार करते हुए नई रिकॉर्ड ऊंचाई बना रहा है. यह सूचकांक को आगे खींच सकता है.

बाजार के र‍िकॉर्ड लेवल पर पहुंचने के कई कारण
मार्केट एक्‍सपर्ट अनुज गुप्ता का कहना है शेयर बाजार के र‍िकॉर्ड लेवल पर पहुंचने के कई कारण हैं. जीडीपी के हाई लेवल करीब 4 ट्रिलियन डॉलर पर पहुंचने से बाजार को जबरदस्‍त सपोर्ट म‍िला है. गोल्ड के रेट और आईपीओ र‍िटर्न के बेस पर बीएसई का मार्केट कैप नए मुकाम पर पहुंच गया है. एक्‍सपर्ट का कहना है शेयर बाजार की तेजी के बीच इन्वेस्टर्स को संभलकर न‍िवेश करना चाहिए. यद‍ि बाजार में जारी तेजी किसी भी स्‍थ‍ित‍ि में गिरावट की तरफ बढ़ती है तो न‍िवेशकों को कम नुकसान हो. इस स्‍थ‍ित‍ि में शेयर बाजार में खरीदारी करें या नहीं, इसके ल‍िए एक्‍सपर्ट ट‍िप्‍स को फॉलो करना जरूरी है.

तेजी के बीच हमेशा इंतजार करने की सलाह
एक्‍सपर्ट की तरफ से सलाह दी जाती है क‍ि तेजी के बीच हमेशा इंतजार करना चाह‍िए. मार्केट के हाई लेवल पर पहुंचने बीच सोच- समझकर बड़ा दांव लगाना चाह‍िए. दूसरा यह क‍ि बाजार में तेजी के बीच आपको ज्‍यादा कमाई के साथ बड़ा नुकसान भी हो सकता है. क‍िसी भी दांव को खेलने से पहले अपना र‍िस्‍क कैलकुलेट कर लें, उसके बाद ही कोई कदम उठाएं. शेयर बाजार में न‍िवेश के ल‍िए एक्‍सपर्ट की तरफ से यह भी सलाह दी जाती है क‍ि तेजी के बीच प्रॉफ‍िट बुक‍िंग करते हुए अगले इन्‍वेटमेंट पर नजर रखें.

सेबी रजिस्टर्ड एनालिस्ट से सलाह जरूर लें
शेयर बाजार में न‍िवेश जोखि‍म भरा होता है. इसलिए नए न‍िवेशकों को तेजी में इनवेस्‍टमेंट से दूरी बनाए रखने की सलाह दी जाती है. नए इन्वेस्टर्स को मार्केट की ग‍िरावट के बीच खरीदारी करना फायदा द‍िला सकता है. शेयर बाजार के प‍िछली चाल पर नजर डालें तो ऐसे कई उदाहरण म‍िल जाते हैं जब स्‍टॉक मार्केट की तेजी पर ब्रेक लगने के बाद शेयर बाजार ने गोता लगाया है. इसमें कई न‍िवेशकों को भारी नुकसान हो जाता है. क‍िसी भी तरह की न‍िवेश की प्‍लान‍िंग करने से पहले सेबी (SEBI) रजिस्टर्ड एनालिस्ट से सलाह अवश्‍य लें.

शेयर बाजार का हाल
मौजूदा कारोबारी सप्‍ताह के तीनों सत्र में शेयर बाजार में तेजी देखी जा रही है. चुनाव के नतीजे आने बाद सेंसेक्‍स 1384 अंक की तेजी के साथ बंद हुआ था. इसके बाद मंगलवार को भी शेयर बाजार में 200 अंक से ज्‍यादा की तेजी देखी गई. आज बुधवार के कारोबारी सत्र में सेंसक्‍स 357 अंक चढ़कर 69,653 अंक पर बंद हुआ. प‍िछले तीन कारोबारी सत्र में ही सेंसेक्‍स 1900 अंक से ज्‍यादा चढ़ चुका है.

(डिस्कलेमर : किसी भी तरह का निवेश करने से पहले एक्सपर्ट से जानकारी कर लें. जी न्यूज किसी भी तरह के निवेश के लिए आपको सलाह नहीं देता.)



Source link