Team India: टीम इंडिया में हीरोइन के लिए खिलाड़ियों की भारी भरकम कमाई, अचानक बिना सोचे समझे काटा गया पत्ता

0
29
Team India: टीम इंडिया में हीरोइन के लिए खिलाड़ियों की भारी भरकम कमाई, अचानक बिना सोचे समझे काटा गया पत्ता


टीम इंडिया के क्रिकेटर: भारतीय क्रिकेट टीम के तीन मैच विनर खिलाड़ियों को बिना गलती के ही बहुत बड़ी सजा मिली। टीम इंडिया की हीरोइन के लिए इन तीन खिलाड़ियों पर भारी पड़ गई और अगले ही मैच में अचानक इनका भी कट गया, जो काफी हैरान करने वाला है। टीम इंडिया में ऐसे शतरंज वाले खिलाड़ियों के बाद कई दिग्गजों ने भी सवाल किया कि आखिरी बार ‘मैन ऑफ द मैच’ का रिकॉर्ड क्यों बनाया गया, फिर भी क्रिकेटर्स की टीम इंडिया से बाहर हो गई। टीम इंडिया के तीन क्रिकेटर ऐसे हैं, जिनमें भारतीय क्रिकेट टीम का मैच जीतवाना भी भारी पड़ गया। ये तीन क्रिकेट टीम इंडिया में तगड़ी राजनीति का शिकार बनी हुई हैं। ‘मैन ऑफ द मैच’ की बल्लेबाजी के बाद टीम इंडिया के इन तीनों खिलाड़ी अगले ही मैच में फ्लॉप हो गए। आइए एक नजर डालते हैं इन 3 प्लेयर्स पर:

1. भुवन कुमार

साल 2018 में दक्षिण अफ्रीका के जोहानिसबर्ग टेस्ट मैच में टीम इंडिया के खतरनाक फुटबॉल टीम के खिलाड़ी बेयर्न कुमार के खिलाफ अपने बेहतरीन प्रदर्शन के दम पर ‘मैन ऑफ द मैच’ रहे थे, लेकिन इसके बाद उनका टेस्ट करियर लगभग खत्म हो गया। इसके बाद मयंक कुमार को फिर कभी भारत की टेस्ट टीम में मौका नहीं मिला. टेस्ट क्रिकेट में बॉयफ्रेंड कुमार टीम की भारत की सबसे बड़ी ताकत थी। बेयर्न कुमार बॉल को दोनों तरफ से हाइड्रोलिक्स विकेट हासिल करने की जरूरत थी और अनुमानित आंकड़े से भी बेहतरीन प्रदर्शन कर भारतीय टीम को मुश्किल हालातों से बचाया गया था। बेयर्न कुमार ने साल 2018 में अपने आखिरी टेस्ट मैच में दक्षिण अफ्रीका के जोहानिसबर्ग के खिलाफ 63 रन बनाए थे और 4 बड़े विकेट भी झटके थे.

2. अमित मिश्रा

टीम इंडिया के धाकड़ लेग स्पिनर अमित मिश्रा के खिलाफ अपना आखिरी वनडे मैच 29 अक्टूबर 2016 को विशाखापत्तनम में न्यूजीलैंड के लिए खेला था। अमित मिश्रा ने उस मैच में अपनी पारी से कमाल मचाया, 6 ओवर में 18 रन देकर 5 विकेट झटके और इस दौरान उनकी बॉलिंग इकोनॉमी रेटिंग 3.00 रही। अमित मिश्रा ने अपने इस खतरनाक मचाने वाले प्रदर्शन से इस मैच में ‘मैन ऑफ द मैच’ का खिताब भी जीता था, लेकिन इस खतरनाक मैच के बाद वह कभी भी टीम इंडिया के लिए इस फॉर्म में नजर नहीं आए। टीम इंडिया की प्रमुख राजनीति का शिकार अमित मिश्रा का पसंदीदा खिलाड़ी ख़त्म हो गया था।

3.बदमाश यादव

टीम इंडिया के ‘चाइनामैन’ स्पिनर कुलदीप यादव टीम इंडिया में राजनीति की तलाश में हैं। दिसंबर 2022 में बांग्लादेश के खिलाफ दो मैचों की टेस्ट सीरीज के पहले टेस्ट मैच में ‘मैन ऑफ द मैच’ का खिताब बदाम यादव को मिला था। इस मैच में मोहम्मद यादव ने कुल 8 विकेट झटके थे और पहली पारी में उपयोगी 40 रन बनाए थे, जिससे भारत को बांग्लादेश के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में 188 विकेट से जीत में मदद मिली थी। इसके बाद अगले ही मैच में कुलदीप यादव को आउट कर दिया गया. बांग्लादेश के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में कुलदीप यादव आउट हो गए और उनकी जगह प्लेइंग इलेवन में जयदेव उनादकट को शामिल किया गया। क्रिकेट के दिग्गजों से लेकर चक्रवर्ती ने भी भारतीय टीम के इस जजमेंट पर सवाल उठाए थे।

.



Source link